खेल जगत

वर्ल्ड क्रिकेट के इन 3 प्लेयर्स को नसीब हुआ सिर्फ 1 IPL मैच

आईपीएल में खेलने का सपना बड़े-बड़े खिलाड़ियों का भी होता. इस लीग में हर साल कई बड़े खिलाड़ी शामिल होते हैं

आईपीएल में खेलने का सपना बड़े-बड़े खिलाड़ियों का भी होता. इस लीग में हर साल कई बड़े खिलाड़ी शामिल होते हैं और मैदान पर उतरने का इंतजार करते हैं. आईपीएल एक ऐसा मंच है जहां खिलाड़ी रातो-रात स्टार बन जाता है. लेकिन कई बड़े नाम ऐसे भी ही जो अपने देश की टीम का अहम हिस्सा है फिर भी आईपीएल में उन्हें खेलने का मौका नहीं मिलता. आज हम आपको ऐसे 3 बल्लेबाजों के बारे में बताएंगे जिन्हें आईपीएल में खेलने का मौका तो मिला लेकिन इन्हें अपने आईपीएल करियर में सिर्फ एक मैच ही खेलने के लिए नसीब हुआ.

मशरफे मोर्तजा

मशरफे मोर्तजा बांग्लादेश क्रिकेट का एक बड़ा नाम हैं. मोर्तजा लंबे संमय तक बांग्लादेश टीम के कप्तान भी रहे हैं. लेकिन मशरफे मोर्तजा आईपीएल में सिर्फ एक मैच ही खेल सके हैं. मशरफे मोर्तजा को साल 2009 में कोलकाता नाइटराइडर्स ने खरीदा था और उन्हें डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ खेलने का मौका मिला था. साल 2009 का आईपीएल दक्षिण अफ्रीका में खेला गया था. ये मैच मशरफे मोर्तजा के लिए काफी खराब रहा था. इस मैच में मोर्तजा ने अपने चार ओवर में 58 रन खर्च किये थे. ये मैच मोर्तजा के लिए आईपीएल का पहला और आखिरी मैच साबित हुआ.

यूनिस खान

पाकिस्तान के दिग्गज खिलाड़ियों में से एक यूनिस खान भी आईपीएल का हिस्सा रहे चुके हैं. साल 2008 में पाकिस्तान के खिलाड़ी आईपीएल में खेले थे, इस सीजन में पाकिस्तान के ग्यारह खिलाड़ी शामिल हुए थे जिसमें से एक यूनिस खान भी थे. यूनिस को राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा था, और किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ एक मुकाबलें में टीम की प्लेइंग XI में जगह भी दी थी. इस मैच में यूनिस खान ने 7 गेंदों पर 3 रनों की पारी खेली थी. ये मैच यूनिस खान के लिए आईपीएल का पहला और आखिरी मैच था. इसके बाद उन्हें प्लेइंग XI शामिल नहीं किया गया.

अकीला धनंजय

श्रीलंकाई टीम में अकीला धनंजय सबसे बेहतरीन स्पिनर्स में से एक माने जाते है. अकीला धनंजय भी इस लिस्ट में शामिल है जिन्हें आईपीएल में सिर्फ एक बार ही प्लेइंग XI में जगह मिली थी. श्रीलंका के इस ऑफ स्पिनर ने 2018 में आईपीएल डेब्यू किया था. अकीला धनंजय को 2018 में मुंबई इंडियंस टीम का हिस्सा थे. धनंजय ने इस सीजन में दिल्ली के खिलाफ मुकाबला खेला था. इस मैच में धनंजय ने 4 ओवर गेंदबाजी की थी लेकिन इनके हाथ एक भी सफलता नहीं लगी थी. इस मैच के बाद धनंजय को आईपीएल में खेलने का मौका कभी नहीं मिला.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button