देश

मुख्तार अंसारी के बेटे के बिगड़े बोल- ‘6 महीने तक ट्रांसफर-पोस्टिंग नहीं,

पुलिस ने मुख्तार अंसारी के बेटे और मऊ से एसबीएसपी के प्रत्याशी अब्बास अंसारी के खिलाफ भड़काऊ बयान देने के मामले में केस दर्ज कर लिया है. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

विधायक और बाहुबली मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के बेटे अब्बास अंसारी (Abbas Ansari) ने यूपी (UP) के मऊ (Mau) में एक जनसभा को संबोधित करते हुए विवादित बयान दिया है. अब्बास अंसारी ने कहा कि सरकार आने पर 6 महीने तक ट्रांसफर-पोस्टिंग नहीं की जाएगी, पहले उनसे हिसाब होगा.

अब्बास अंसारी का विवादित बयान

माफिया मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी ने कहा कि अखिलेश यादव की सरकार आने पर 6 महीने तक किसी भी सरकारी अधिकारी या पुलिसकर्मी की ट्रांसफर या पोस्टिंग नहीं होगी. सरकार बनने पर उन लोगों से किए गए जुल्म और अत्याचार का हिसाब लिया जाएगा. बता दें कि गुरुवार को मऊ के पहाड़पुरा में अब्बास अंसारी एक रैली को संबोधित कर रहे थे. वो मऊ सदर सीट से ओम प्रकाश राजभर की सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं.

मऊ में आखिरी चरण में होगा मतदान

माना जा रहा है कि अब्बास अंसारी ने मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए और योगी सरकार की तरफ की गई कार्रवाई से परेशान हुए अपने समर्थकों को आश्वस्त करने के लिए ऐसा कहा. जान लें कि मऊ में यूपी विधान सभा चुनाव के आखिरी चरण में यानी 7 मार्च को मतदान होगा और 10 मार्च को नतीजे आएंगे.

अब्बास अंसारी के खिलाफ केस दर्ज

अब्बास अंसारी ने कहा कि वो उत्तर प्रदेश के होने वाले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से बात करके आए हैं. उन्होंने अखिलेश यादव से कह दिया है कि 6 महीने तक ट्रांसफर-पोस्टिंग नहीं होगी. हालांकि इसका संज्ञान लेते हुए पुलिस डीजीपी कार्यालय ने मऊ पुलिस को कार्रवाई करने के लिए निर्देश दिए हैं. विवादित बयान के लिए अब्बास अंसारी के खिलाफ सदर कोतवाली में आचार संहिता के उल्लंघन में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. एसपी सुशील घुले ने बताया कि बीती रात अब्बास अंसारी द्वारा दिए गए बयान को संज्ञान में लेते हुए कोतवाली में संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और जांच के लिए संबंधित रिटर्निंग ऑफिसर को आदेश दिया गया है गौरतलब है कि मऊ विधान सभा सीट पर मुख्तार अंसारी के परिवार का दबदबा माना जाता है. अभी मुख्तार अंसारी खुद मऊ सीट से विधायक हैं. उन्होंने साल 2017 के विधान सभा चुनाव में बीएसपी के टिकट पर मऊ से जीत हासिल की थी.  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button