स्वास्थ्य

शरीर से टॉक्सिन बाहर निकलता है व्हे प्रोटीन, पॉवरफुल एंटीऑक्सीडेंट का स्रोत है व्हे प्रोटीन

व्हे प्रोटीन एक पॉवरफुल एंटीऑक्सीडेंट है, जो शरीर को डिटॉक्स करता है. इससे मसल्स मजबूत होती हैं और तनाव दूर होता है. व्हे प्रोटीन शरीर में प्रोटीन की कमी को पूरा करता है.

शरीर को स्वस्थ और मजबूत बनाने के लिए प्रोटीन की जरूरत होती है. प्रोटीन से मांसपेशियों को ताकत मिलती है और नई सेल्स बनाने में मदद मिलती है. अगर आप वजन कम करना चाहते हैं या बढ़ाना चाहते हैं दोनों के लिए प्रोटीन जरूरी है. प्रोटीन से शरीर की डेली नीड्स को पूरा किया जा सकता है. मधुमेह के रोगियों के लिए भी प्रोटीन से भरपूर चीजें फायदेमंद होती है, लेकिन आप डाइट के जरिए जो प्रोटीन लेते हैं उसमें फैट और कार्ब्स काफी होता है जो नुकसान करता है. ऐसे में आप व्हे प्रोटीन (Whey Protein) का सेवन कर सकते हैं. डायबिटीज के मरीजों के लिए ये हेल्दी प्रोटीन का ऑप्शन है. बॉडी बनाने वालों के लिए भी व्हे प्रोटीन फायदेमंद होता है. इससे मसल्स बनाने और मजबूत करने में मदद मिलती है. जानते हैं फायदे.  पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट- व्हे प्रोटीन शरीर में एंटीऑक्सीडेंट फंक्शन को मजबूत बनाने और बढ़ाने का काम करता है. व्हे प्रोटीन शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है. इसके सेवन से शरीर में मौजूद टॉक्सिन बाहर निकल जाते हैं. व्हे प्रोटीन में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से लड़ने में मदद करने वाले एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं. व्हे प्रोटीन में सबसे अहम ग्लूटाथियोन एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो एमिनो एसिड से बनता है. व्हे प्रोटीन से शरीर में सभी जरूरी एमिनो एसिड्स की कमी को आसानी से पूरा किया जा सकता है. इंफ्लेमेशन को कम करे- व्हे प्रोटीन को क्रोहन्स और कोलाइटिस जैसी बीमारियों से लड़ने में अहम माना जाता है. इसके सेवन से इंफ्लेमेशन की समस्या कम हो जाती है. अगर आपको पाचन से जुड़ी समस्या है तो व्हे प्रोटीन आपके लिए फायदेमंद होगा. व्हे प्रोटीन को पचाना काफी आसान होता है इससे पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है. व्हे प्रोटीन नेचुरल तरीके से इंफ्लेमेशन को कम करता है. आपको अपनी डाइट में इसे जरूर शामिल करना चाहिए. \  डायबिटीज रहेगा कंट्रोल- शरीर में ब्लड शुगर बढ़ने पर प्रोटीन का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है. डायबिटीज के रोगियों को कार्ब्स कम और प्रोटीन ज्यादा लेना चाहिए. मधुमेह के रोगियों के लिए व्हे प्रोटीन शरीर में प्रोटीन की कमी को पूरा करने का अच्छा तरीका है. कई रिसर्च में भी ये पता चला है कि व्हे प्रोटीन इंसुलिन के लेवल को बढ़ाकर ब्लड शुगर कम करने में मदद करता है. व्हे प्रोटीन से बॉडी में कार्ब्स और फैट बिल्कुल नहीं जाता सिर्फ प्रोटीन ही पहुंचता है, जो डायबिटीज के मरीजों को फायदा पहुंचाता है. Whey Protein के सेवन से आप शरीर में प्रोटीन की कमी को आसानी से पूरा कर सकते हैं. इससे वजन घटाने में भी काफी मदद मिलती है. व्हे प्रोटीन से मेटाबॉलिज्म मजबूत होता है. इसमें कैलोरी बहुत ही कम होती है. जिम जाने वाले या एक्सरसाइज करने वाले लोगों के लिए व्हे प्रोटीन मांसपेशियों को मजबूत बनाने का काम करता है. \ तनाव दूर करने में मददगार- व्हे प्रोटीन में शरीर के लिए जरूरी सभी एमीनो एसिड्स पाए जाते हैं व्हे प्रोटीन में ट्रिप्टोफैन नाम का एक तत्व होता है, जिससे अच्छी नींद आती है. व्हे प्रोटीन के सेवन से मानसिक तनाव भी दूर होता है. ये आपके मस्तिष्क को कूल करने का काम करता है. व्हे प्रोटीन दिमाग में सेरोटोनिन के निर्माण से भी जुड़ा है. सेरोटोनिन तनाव को दूर करने में मदद करता है.  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button