अलीगढ़उत्तर प्रदेशक्राइम न्यूज़देशब्रेकिंग न्यूज़

अलीगढ़ : दबंग दुकानदार व उसकी पत्नी ने दलित लड़के को बेरहमी से पीटा, हालत गंभीर

यूपी के अलीगढ़ के थाना गांधी पार्क पुलिस ने जेएन मेडिकल कॉलेज की इमरजेंसी में भर्ती तान्या सूट कलेक्शन दुकान पर मजदूरी करने वाले पीड़ित दलित युवक अशोक के साथ मारपीट किए

यूपी के अलीगढ़ के थाना गांधी पार्क पुलिस ने जेएन मेडिकल कॉलेज की इमरजेंसी में भर्ती तान्या सूट कलेक्शन दुकान पर मजदूरी करने वाले पीड़ित दलित युवक अशोक के साथ मारपीट किए जाने के मामले में पिता की तहरीर के आधार पर मारपीट करने वाले दोषी दुकानदार मालिक गौरव वार्ष्णेय, उसकी पत्नी, सहित 2 से 3 अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा एससी एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ में एक मजदूर दलित युवक के ऊपर स्वर्ण समाज के दुकानदार मालिक का कहर इस कदर टूटा है कि उस दुकानदार गौरव वार्ष्णेय के द्वारा अपनी पत्नी सहित अन्य साथियों के साथ मिलकर दलित युवक की बेरहमी के साथ लोहे के सरिया लाठी-डंडों से जमकर पिटाई की गई। जिसके बाद सभी दबंग लोग दलित युवक को मृत समझकर मौके पर छोड़कर भाग गए। दलित युवक को उपचार के लिए अलीगढ़ के जैन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया तो वही उसके साथी के द्वारा दबंग दुकानदार उसकी पत्नी सहित अन्य लोगों के द्वारा की गई मारपीट की सूचना उसके परिवार के लोगों को दी गई। दलित युवक की दुकानदार के द्वारा बेरहमी से की गई पिटाई की खबर जंगल में लगी आग की तरह पूरे शहर में फैल गई और देखते ही देखते बुजुर्ग महिलाओं समेत हजारों की तादात में दलित समाज के लोग सड़कों पर उतर आए ओर स्वर्ण समाज के दबंगों पर कार्रवाई ना होने से नाराज पीड़ित परिवारी जन मोहल्ला खटीकान चौराहे पर धरने पर बैठ गए ओर दलितों ने देहली गेट चौराहे पर जाम लगा दिया। जिसके बाद दलित युवक की पिटाई करने वाले थाना गांधी पार्क क्षेत्र के रेलवे रोड दुबे जी के कूचे के पास स्थित दुकान तान्या सूट कलेक्शन के मालिक दुकानदार के खिलाफ तत्काल मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई किए जाने की मांग की जाने लगी। दलित समाज के लोगों को सड़कों पर उतरता देख अलीगढ़ पुलिस और प्रशासन के हाथ पैर फूल गए। जिसके बाद बड़ी तादाद में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गया और गुस्साए दलित समाज के लोगों को दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई किए जाने के साथ उसकी गिरफ्तारी का आश्वासन देते हुए मामले को शांत किए जाने की गुहार लगाई गई। इस दौरान दलितों के साथ पिटाई करने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर हंगामा कर रहे लोगों के द्वारा भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ भी आक्रोश पनप गया। इस दौरान भारतीय जनता पार्टी की पूर्व मेयर शकुंतला भारती मौके पर पहुंची और गुस्साए दलित परिवार के लोगों को कार्यवाही किए जाने का आश्वासन देकर शांत किया गया।

वही बहुजन समाज पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष रतन दीप सिंह भी मौके पर पहुंचे और उनके द्वारा भी दलित परिवार का हरसंभव मदद दिलाए जाने का आश्वासन दिलाया गया। इसके साथ ही बसपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रतन दीप सिंह ने कहा कि सबसे प्रदेश और केंद्र में भाजपा की सरकार आई है तब से दलितों पर अत्याचार चरम पर है। जबकि प्रशासन के द्वारा दलित उत्पीड़न के मामलों में जातिगत भेदभाव के चलते स्वर्ण दबंगों के खिलाफ कोई भी कार्रवाई नहीं की जा रही हैं। जिससे जातिगत भेदभाव करने वाले लोगों का मनोबल बढ़ा हुआ है ओर जमकर दलितों को निशाना बनाया जा रहा है। जबकि सामाजिक न्याय के सिद्धांत को भूलकर जातिगत तुष्टीकरण में अलीगढ़ प्रशासन लिप्त है।

रिपोर्टर – लक्ष्मन सिंह राघव

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button