अलीगढ़उत्तर प्रदेशदेशब्रेकिंग न्यूज़

अलीगढ़ : विश्वविद्यालय के निर्माण कार्य में देरी के चलते संबंधित ठेकेदार पर लगाया पौने दो करोड़ का जुर्माना

अलीगढ़ - राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय के निर्माण में देरी को लेकर जिला प्रशासन ने सख्ती दिखाते हुए अनुबंधित ठेकेदार पर पौने दो करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है, यह कार्यवाही सीएम योगी के नाराजगी के बाद की गई है

अलीगढ़ – राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय के निर्माण में देरी को लेकर जिला प्रशासन ने सख्ती दिखाते हुए अनुबंधित ठेकेदार पर पौने दो करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है, यह कार्यवाही सीएम योगी के नाराजगी के बाद की गई है बतादें, सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने 2019 के विधानसभा उपचुनाव के समय स्वतंत्रता सेनानी राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम से राज्य विश्वविद्यालय बनाने की घोषणा की थी, जिसके बाद 14 सितंबर 2021 को जिले के लोधा थाना क्षेत्र के मुसेपुर गांव में सीएम योगी के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी.

पूरा मामला जिले के लोधा थाना इलाके के मूसेपुर गांव में स्थित निर्माणाधीन राजा महेंद्र प्रताप राज्य विश्वविद्यालय का है, जहां प्रदेश के मुखिया सीएम योगी की नाराजगी के बाद अलीगढ़ डीएम इंद्रविक्रम सिंह ने विश्वविद्यालय के निर्माण में देरी को लेकर सख्ती दिखाते हुए अनुबंधित कंपनी के ठेकेदार पर पौने दो करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है.

डीएम इंद्रविक्रम सिंह ने बताया यहां पर राजा महेंद्र प्रताप राज्य विश्वविद्यालय का निर्माण हो रहा है, उसमें प्रोजेक्ट को जिस पूर्ण अवधि में पुर्ण करना था चरणबद्ध तरीके से इस प्रोजेक्ट को हम रिब्यू करते हैं ,प्रोजेक्ट को उस क्रम में इसको पूर्ण करने में कार्यवाही संस्था का जो ठेकेदार है उसके द्वारा विलंब किया गया है. इसलिए जो अनुबंधित संस्था है उस पर एक करोड़ 75 लाख रुपए का अर्थ दंड अधिरूपित किया गया है. और यह अधिरोपण दो अभिधियों में रिव्यू करने के बाद किया गया है अगस्त माह और एक अक्टूबर माह में. इसको अनुबंध के अनुसार उसको पूर्ण करना बाध्यता है अगर समय अंतर्गत उसे पूर्ण नहीं करता है तो उसमें उसको कोई लागत वृद्धि नहीं दी जाएगी.इसलिए प्रोजेक्ट के हित में और संस्था के भी हित में भी कार्यवाही संस्था ठेकेदार के कि उसको समय अवधि के अंतर्गत पूर्ण करें. इसी बात को ध्यान में रखते हुए इसको दिन प्रतिदिन के बेसिस पर रिव्यू किया जा रहा है. हम आशा करते हैं थोड़ा बहुत विलंब के साथ इस प्रोजेक्ट को तय समय सीमा के अनुसार पूरा कर लेंगे.

रिपोर्टर – लक्ष्मन सिंह राघव

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button