वीडियो

अलीगढ़ पहुंचे किसान नेता राकेश टिकैत

किसान संगठनों के साथ की बैठक

अलीगढ़- किसान संगठनों को मजबूत करने के लिए भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत जगह-जगह मीटिंग कर रहे हैं। इसी संदर्भ में यह आज अलीगढ़ में भी किसान संगठनों के साथ मीटिंग करने आए हुए थे।

किसान नेता राकेश टिकैत ने मीडिया से बात करते हुए अधीर रंजन चौधरी द्वारा राष्ट्रपति पर विवादित टिप्पणी के सवाल पर कहा कि विवादित उन्होंने कोई जानबूझकर नहीं कहा। भाषा का रहता है। हिंदी बोलने की कोशिश की तो उन्होंने गलती मान लिया कि यह ठीक नहीं है और मेरी हिंदी ठीक नहीं है तो मैं जाकर खुद गलती मान लूंगा। भाजपा तो नहीं चलने देगी सदन को, भाजपा विपक्ष वालों को चंटेगी और अभी। जिस तरह से एक विपक्षी नेता के साथ में अभद्रता की गई है वह ठीक नहीं है। जिस तरह से कांग्रेस अध्यक्ष के साथ में उनके साथ न्यूसेंस हआ है तो इनकी एक इंटेंशन होगी कि दूसरे आदमी की बेज्जती करो। यह इनकी इंटेंशन है। कोई शब्द मुंह से निकल गया और उसने गलती मान ली और उसने कहा कि मैं घर जाकर उनके माफी मांग लूंगा लेकिन इस बात को बढ़ाना है वह गलत है। इन्हें कामों पर ध्यान देना चाहिए विकास के कामों पर।

अखिलेश यादव के राजभर व शिवपाल को पत्र लिखने के सवाल पर कहा कि राजभर तो इधर उधर चले जाते हैं उन्हें पता लगे कि सत्ता अखिलेश की आ जाएगी तो अखिलेश के साथ आ गए। नहीं आई तो उधर चले गए। शिवपाल यादव का मसला तो उनके घर का रोड़ा है। यह बीजेपी सबमे लड़ाई कराएगी। यह जिसके घर में घुस जाएगी लड़ाई करवाएगी। या भाइयों भाइयों में लड़ाई करवाएगी यह बहुत लड़ाई वाली है। इसको तोड़फोड़ में विश्वास है।

अग्नि वीरों का प्रोग्राम हमारा 7 तारीख से लेकर 14 तारीख तक चलेगा। कहीं रास्ता जाम करने का नहीं है। 31 तारीख का हमारे प्रोग्राम था एमएसपी को लेकर। जो भारत सरकार ने वादे किए थे उसके खिलाफ। हमने उसको वापस लिया है कल कुछ पेपर है और तीज का त्यौहार है। जो महिलाएं हैं हमारे समाज का हिस्सा है उनका एक त्यौहार है। इस में रास्ता जाम करने का वापस लिया हैं मीटिंग होगी जहां जहां पॉइंट बनाये वहां बात करो और अधिकारियों को ज्ञापन देंगे। किसान गुटों में कोई फुट नहीं है।

लुलु मॉल पर नमाज के मामले सवाल पर कहा कि मुझे यह पता पड़ा है कि नमाज पढ़ने वाल लोग हिंदू थे। यह साजिश तो बीजेपी वाले ही सोचते हैं। सारे जो भी कर्मकांड हो रहे हैं इन यह एक पैर भी बिगर ऐब के धरते नहीं है। 2024 में जीतेंगे तो यही। बेईमानी करेंगे और अगर विपक्ष इकट्ठा नहीं हुआ तो यही जीतेंगे। उनका मुकाबला करना है तो विपक्ष को इकट्ठा हो जाना चाहिए। सभी लोगों पर रेड पड़ेगी। यह एक तरफ से सबको नापेंगे। कोई पहले दिन आएगा कोई तीसरे दिन आएगा नंबर आएगा सबका ।

बाइट – राकेश टिकैत, किसान नेता..

   

रिपोर्टर लक्ष्मन सिंह राघव, एपेक्स न्यूज़ इंडिया

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button