खेल जगत

भारतीय क्रिकेट टीम अंडर-19 वर्ल्ड कप में खिताबी पंच लगाने के लिए तैयार है।

भारतीय क्रिकेट टीम अंडर-19 वर्ल्ड कप में खिताबी पंच लगाने के लिए तैयार है। खिताबी मुकाबले में टीम का सामना आज शाम को सर विवियन रिचर्ड्स स्टेडियम (Sir Vivian Richards Stadium) में इंग्लैंड के खिलाफ होना है।

भारतीय क्रिकेट टीम अंडर-19 वर्ल्ड कप में खिताबी पंच लगाने के लिए तैयार है। खिताबी मुकाबले में टीम का सामना आज शाम को सर विवियन रिचर्ड्स स्टेडियम (Sir Vivian Richards Stadium) में इंग्लैंड के खिलाफ होना है। भारत ने सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 96 रनाें से करारी मात देकर आठवीं बार फाइनल में जगह बनाई है और अब वह रिकॉर्ड पांचवीं बार खिताब जीतने से महज एक जीत दूर है। इस टूर्नामेंट में दोनों ही टीमें अब तक एक भी मुकाबला नहीं हारी है और ऐसे में फाइनल में भी जीत की लय बरकरार रखते हुए ट्रॉफी पर कब्जा जमाना चाहेगी। इस​के लिए दोनों ही टीमें अपनी मजबूत प्लेइंग इलेवन को मैदान पर उतारना चाहेगी। टीम के लिए सबसे अच्छी बात यह है कि फाइनल तक पहुंचने में सभी खिलाड़ियों ने अपना योगदान दिया है। ऐसे में इस बात की संभावना कम ही है कि भारत अपनी प्लेइंग XI में शायद ही कोई बदलाव करे। 2000, 2008, 2012 और 2018 में चैंपियन बनने वाली भारतीय टीम अपने पांचवें खिताब की तलाश में लगी है और ऐसे में टीम विनिंग कॉम्बिनेशन के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं करना चाहेगी। सेमीफाइनल में भारत को शुरू में ही पहला झटका लग गया था, लेकिन उसके बाद शेख रशीद और कप्तान यश धुल ने तीसरे विकेट के लिए 204 रनों की साझेदारी करके टीम को मजबूत स्कोर तक पहुंचाया था। धुल ने 3 मैचों में 106 की औसात से 212 रन बनाए है। इस दौरान उन्होंने एक शतक और इतने ही अर्धशतक लगाए हैं। बल्लेबाज अंगकृष रघुवंशी (Angkrish Raghuvanshi) मौजूदा टूर्नामेंट में भारत के लिए सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की लिस्ट में टॉप पर हैं। उन्होंने अभी तक 5 मैचों में 55.60 की औसत से 278 रन बनाए है। राज बावा (Raj Bawa) का काम मध्यक्रम में टीम को मजबूती देना है। वह इस टूर्नामेंट में टीम के दूसरे टॉप स्कोरर हैं। बावा ने 5 मैचों की 4 पारियों में 72.33 की औसत से 217 रन बनाए है।
गेंदबाजी में बाएं हाथ का स्पिनर विक्की ओस्तवाल (Vicky Ostwal) अंडर-19 वर्ल्ड कप 2022 में भारत के सबसे सफल गेंदबाज हैं। विक्की ने 5 मैचों में 10.75 की औसत से 12 विकेट चटकाए हैं। वहीं, कोरोना को मात देने के बाद मैदान पर लौटने वाले निशांत सिंधू (Nishant Sindhu) ने अब तक 4 मैचों में 6 विकेट झटके है। वह इस टूर्नामेंट में भारत के लिए दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। साथ ही वह निचले क्रम में बल्लेबाजी करने में भी सक्षम है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button