विदेश

पाकिस्तान के पाले आतंकियों से दुनिया परेशान:टेक्सास आतंकी हमले के पीछे पाक की टेरर पॉलिसी होने का शक, दुनिया भर में हो रही थू-थू

पाकिस्तान के पाले हुए आतंकी अब उसके लिए ही दुनिया भर में बदनामी का सबब बन रहे हैं। अमेरिका के टेक्सास में सिनेगॉग पर हुए आतंकी हमले के पीछे भी पाकिस्तान की टेरर पॉलिसी शक के घेरे में आ गई है।

पाकिस्तान के पाले हुए आतंकी अब उसके लिए ही दुनिया भर में बदनामी का सबब बन रहे हैं। अमेरिका के टेक्सास में सिनेगॉग पर हुए आतंकी हमले के पीछे भी पाकिस्तान की टेरर पॉलिसी शक के घेरे में आ गई है। सिनेगॉग में लोगों को बंधक बनाने का मकसद अमेरिकी जेल में बंद पाकिस्तानी न्यूरो साइंटिस्ट आफिया सिद्दीकी की रिहाई था। पाकिस्तान लंबे वक्त से आफिया सिद्दीकी की रिहाई के लिए कोशिशें करता रहा है। उसके बहुत से शहरों में आफिया को ‘देश की बेटी’ बताया जाता है। इमरान खान ने भी इस मामले की निगरानी के लिए अपने पार्लियामेंट्री सलाहकार बाबर अवान को नियुक्त कर रखा है।

आफिया के रिहाई के लिए पाकिस्तान सौदेबाजी करने से भी बाज नहीं आया। उसने आफिया को रिहा करने के बदले CIA कॉन्ट्रैक्टर रेमंड डेविस को छोड़ने की पेशकश की थी, लेकिन अमेरिका ने इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया।

खूंखार आतंकियों की पनाहगाह है पाकिस्तान दुनिया भर के खूंखार आतंकियों के लिए पाकिस्तान किसी जन्नत से कम नहीं है। मुंबई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद से लेकर 1993 के मुंबई बम धमाकों का आरोपी दाऊद इब्राहिम और जैश-ए-मोहम्मद का मसूद अजहर तक पाकिस्तान में पनाह लिए हुए है।

अपना बोया ही काट रही है पाक सरकार पाकिस्तान ने जिन आतंकियों को पाल पोस कर बढ़ा किया है अब वही उसके लिए गले की फांस बनते जा रहा हैं। पाकिस्तानी तालिबान जहां देश के अंदर लोगों की जान ले रहा है, वहीं अफगान तालिबान बॉर्डर पर पाक सैनिकों को मार रहा है।

सिनेगॉग पर हमले के आरोपी ब्रिटिश नागरिक मलिक फैसल अकरम को FBI ने ढेर कर दिया। वहीं, इस मामले में ब्रिटेन के ग्रेटर मैनचेस्टर की पुलिस ने 2 नाबालिगों को गिरफ्तार किया। ग्रेटर मैनचेस्टर की पुलिस इस मामले की गहराई से छानबीन के लिए अमेरिकी एजेंसियों के साथ जानकारी भी साझा कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button