अन्य

पत्नी ने नहीं बनाया मटन करी तो गुस्सैल पति ने उठाया गलत कदम

पति और पत्नी (Husband Wife) के बीच अक्सर नोंक-झोंक सुनने को मिलती है

पति और पत्नी (Husband Wife) के बीच अक्सर नोंक-झोंक सुनने को मिलती है. दोनों ही किसी न किसी बात पर तू-तू, मैं-मैं करते रहते हैं, लेकिन कभी-कभी नौबत इतनी बढ़ जाती है कि मामला पुलिस तक पहुंच जाता है. हालांकि, तेलंगाना में एक ऐसा मामला आया जिसे सुनने के बाद लोगों के होश ही उड़ गए. तेलंगाना के एक व्यक्ति को अपनी पत्नी द्वारा मटन करी नहीं बनाने पर इतना गुस्सा आया कि उसने पुलिस से शिकायत करने के लिए 100 डायल किया. 

शख्स ने पुलिस कंट्रोल रूम में लगाया फोन

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नवीन नाम के शख्स ने अपना फोन उठाया और अपनी पत्नी के खिलाफ शिकायत करने के लिए पुलिस कंट्रोल रूम में फोन किया. उसने शिकायत किया कि उसकी पत्नी ने उसके लिए मटन करी नहीं बनाई. वह आदमी गुस्से में था और वह नशे में था. शुरुआत में, डायल 100 ऑपरेटर्स ने इसे एक शरारत मानकर इसे इग्नोर किया, लेकिन नशे में धुत नवीन ने जब छह बार कंट्रोल रूम को फोन किया, तो उन्हें पता था कि इस आदमी को सबक सिखाने की जरूरत है और शुक्रवार की रात अपने सीनियर अधिकारियों को सतर्क कर दिया.

पुलिस ने अगले दिन शख्स को लिया हिरासत में

बीते शनिवार की सुबह तक पुलिसकर्मियों का एक दल कानागल मंडल के चेरला गौराराम गांव स्थित उसके घर पर पहुंच गया और नवीन को हिरासत में ले लिया. वह भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 290 और 510 के तहत आरोपों का सामना कर रहा है, जो एक शराबी व्यक्ति द्वारा पब्लिक प्लेस पर सार्वजनिक उपद्रव और कदाचार से संबंधित है. जबकि, धारा 510 में एक दिन की कैद और/या जुर्माना होता है.

शराब पीकर पहुंचा शख्स तो गुस्साई पत्नी ने खाना पकाने से किया मना

पुलिस ने कहा कि नवीन ने शराब का सेवन किया था और शुक्रवार की रात मटन लेकर घर लौटा और अपनी पत्नी को इसे पकाने का आदेश दिया. उनकी पत्नी ने ऐसा करने से इनकार कर दिया और उन्हें पुलिस को फोन करने के लिए प्रेरित किया. शुक्रवार की रात गश्ती करने वाले पुलिसकर्मी वास्तव में उसके घर गए और उसे पूरी तरह से नशे में पाया. उन्होंने उसे कुछ समय के लिए अनदेखा करना चुना, लेकिन शनिवार की सुबह उसे हिरासत में लेने के लिए लौट आए. कनागल के एसआई नागेश ने लोगों को आगाह किया कि वे डायल 100 सुविधा का दुरुपयोग न करें, जो संकट में या आपात स्थिति में लोगों की मदद करने के लिए है. उन्होंने बताया कि नवीन के खिलाफ एक अप्रासंगिक मामले पर 100 पर कॉल करके पुलिसकर्मियों का बहुमूल्य समय बर्बाद करने के लिए मामला दर्ज किया गया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button