देश

अंकिता मर्डर केस में हुई पूछताछ

आरोपियों को पुलिस रिमांड में लिया गया

एसआईटी प्रभारी डीआईजी पी. रेणुका देवी ने बताया मुख्य आरोपी पुलकित आर्य सहित सभी तीनों आरोपियों को पुलिस रिमांड में लिया गया है। हत्यारोपियों को पौड़ी जेल से किसी अज्ञात जगह पर ले जाया गया है। कहा कि तीन दिन की रिमांड में हत्याकांड से जुड़े कई सवाल पूछे जाएंगे।

एसआईटी टीम द्वारा तीनों हत्यारोपियों से गहन पूछताछ जारी है। हत्याकांड से जुड़े हर सवालों के जवाब को ढूंढने के लिए एसआईटी की ओर से पांच टीमें गठित की गईं हैं। एसआईटी द्वारा पटवारी वैभव प्रताप सिंह से भी हत्याकांड से जुड़े कई सवाल किए गए हैं। सूत्रों की बात मानें तो तीनों हत्यारोपियों और पटवारी को आमने-सामने बैठक गहन पूछताछ की जाएगी।

इसके लिए एसआईटी द्वारा प्लानिंग कर सवाल भी तैयार किए जा चुके हैं। जिला जेल पौड़ी के जेलर बीपी सिंह पुष्टि करते हुए बताया कि तीनों हत्यारोपियों को पुलिस रिमांड पर एसआईटी को सौंप दिया गया है। सूत्रों ने बताया कि तीन दिनी रिमांड में अंकिता मर्डर केस से जुड़े हर सवालों का जबाव ढूंढ़ने की पूरी कोशिश की जाएगी।

महिलाओं ने सीएम को ज्ञापन भेजते हुए केस की सीबीआई जांच करवाने, वीआईपी गेस्ट का नाम सार्वजनिक करने, केस फास्ट ट्रैक कोर्ट पर व पुलिस रिमांड की मांग की। तहसीलदार श्रेष्ठ गुनसोला ने बताया कि श्रीनगर तहसील में चार्ज होने के कारण से मौके पर देरी से पहुंचे। प्रदर्शन में पोखड़ा, एकेश्वर की आंगनबाड़ी सदस्य, महिला मंगल दल, आशा वर्कर व सामाजिक संगठन व राजनीतिक संगठन से जुड़े ग्रामीण मौजूद रहे ।

अंकिता मर्डर केस में अहम गवाह जम्मू निवासी पुष्प दीप के ऋषिकेश पहुंचने पर उनसे भी पूछताछ की गई। एसआईटी ने अंकिता के दोस्त से घंटों पूछताछ कर पुष्प के बयान भी दर्ज किए। अंकिता हत्याकांड में पुष्प के बयानों को अहम माना जा रहा है। हालांकि, उससे टीम ने क्या सवाल किए, एसआईटी ने कुछ नहीं बताया। मालूम हो कि अंकिता के दोस्त पुष्प दीप ने ही अंकिता के गायब होने की जानकारी दी थी। अंकिता और उसके बीच व्हाट्सऐप चैट इस मामले में अहम सबूत माना जा रहा है।

अंकिता हत्याकांड की जांच कर रही एसआईटी बहुत ही गहनता से जांच कर रही है। हत्याकांड की जांच कर रही एसआईटी हर एंगल से जांच कर रही है। एसआईटी ने घटनास्थल और वनंतरा रिजॉर्ट का भी दौरा किया है। एसआईटी सूत्रों की मानें तो जांच टीम को रिजॉर्ट में कई अहम सुराग हाथ लगे हैं, जो हत्यारोपियों को सजा दिलाने में मददगार साबित होंगे।

रिजॉर्ट को लेकर सत्यापन अभियान के चलाते हुए पुलिस ने 13 रिजॉर्ट के चालान कर दिए। इन सभी रिजॉर्ट में काम करने वाले कार्मिकों का सत्यापन नहीं किया गया था। जिस पर पुलिस ने चालानी कार्रवाई की है। पौड़ी के एसएसपी यशवंत सिंह चौहान ने बताया कि लक्ष्मणझूला पुलिस टीम ने नीलकंठ रोड पर 13 ऐसे रिजॉर्ट जिनके द्वारा रिजॉर्ट के कर्मचारियों का सत्यापन नहीं कराया था उनके विरुद्ध पुलिस अधिनियम के तहत 2 लाख 20 हजार के कोर्ट संबंधी चालानी कार्रवाई की है। वहीं एसडीएम श्रीनगर अजय वीर के नेतृत्व में श्रीनगर के होटल व रेस्टोरेंट की चेकिंग की गई है। वहीं पौड़ी में एसडीएम सदर आशीष जोशी ने भी चेकिंग अभियान चलाया।

तहसील चौबट्टाखाल में शनिवार को अंकिता भण्डारी को न्याय दिलाने के लिए महिलाएं सड़कों पर उतरी। महिलाओं द्वारा चौबट्टाखाल बाजार से होते हुए रैली तहसील परिसर पहुंची । इस दौरान महिलाओं ने रैली के माध्यम से आरोपियों को फांसी देने के लिए जमकर नारेबाजी की। इस दौरान तहसील में तहसीलदार के नहीं होने पर महिलाओं ने नाराजगी जताते हुये ज्ञापन देने से मना किया। इसके बाद तहसीलदार ने मौके पर पहुंचकर ज्ञापन लिया ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button