उत्तर प्रदेशऔरैयादेशब्रेकिंग न्यूज़

औरैया : सेगनपुर गांव की सड़क तालाब में हुई तब्दील

सरकार के मुखिया ने प्रदेश में सड़को को गड्ढा मुक्त करने के लिए संबंधित विभाग को सख्त निर्देश कर निर्धारित समय सीमा में सुधार करने का फरमान जारी किया है जिसके चलते सरकारी विभाग द्वारा कुछ स्थानों पर छिटपुट काम किया गया

सरकार के मुखिया ने प्रदेश में सड़को को गड्ढा मुक्त करने के लिए संबंधित विभाग को सख्त निर्देश कर निर्धारित समय सीमा में सुधार करने का फरमान जारी किया है जिसके चलते सरकारी विभाग द्वारा कुछ स्थानों पर छिटपुट काम किया गया लेकिन अजीतमल क्षेत्र के एक मार्ग पर बीते करीब एक वर्ष से तालाब में तब्दील हो चुकी सड़क पर आज तक किसी ने एक पत्थर का टुकड़ा डालने की जरूरत नहीं समझी जिससे राह चलते लोगों को कुछ राहत मिल सकती ।

बतादें कि अजीतमल क्षेत्र के राष्ट्रीय राजमार्ग से भीख़ेपुर जुहीखा मार्ग पर सेगनपुर गांव में सड़क तालाब में तब्दील हो गई है। जहां छोटे ,बड़े वाहनों के अलावा पैदल निकलने वाले स्कूली छात्र – छात्राओं को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सड़क पर पानी भरे गड्डो में आए दिन किसी वाहन का फंसना व लोगों का गिरकर चोटिल होना आम बात बन गया है। वहीं तालाब का रूप ले चुकी गड्ढों में तब्दील सड़क पर भरे पानी में बतखो द्वारा अठखेलियां करना भी बच्चो के लिए आकर्षण का केंद्र बन गया है।

वहीं ग्रामीणों ने बताया कि करीब एक वर्ष से सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए गांव के दोनों तरफ सड़क के चौड़ीकरण का कार्य चल रहा है लेकिन गड्ढों का भराव नहीं किया जा रहा है जिससे आए दिन लोगों को दुर्घटना का शिकार होकर भारी परेशानी उठानी पड़ रही है बीते माह प्रदेश के मुखिया द्वारा सड़कों को गड्ढा मुक्त करने की घोषणा पर लोगों को उम्मीद जगी थी कि शायद गांव की सड़क भी अब गड्ढा मुक्त हो जाएगी लेकिन निर्धारित समय सीमा निकलने के बाद किसी भी जिम्मेदार विभाग ने सेगनपुर गांव की तालाब में बदल चुकी सड़क को देखना भी मुनासिफ नहीं समझा। सड़क का गड्डा मुक्त न होना सरकार के दावों पर प्रश्न चिह्न लगा रहा है कि आखिर इसके लिए कौन जिम्मेदार हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button