मनोरंजन

इस एक्ट्रेस ने गालियां सीखने के लिए ली वर्कशॉप,

वेब सीरीज में कितना बोल्ड कंटेंट दिखाया जाता है, यह किसी को बताने की जरूरत नहीं है. अब इसी दुनिया में कदम रखने वाली हैं आमना शरीफ (Aamna Sharif). उन्होंने वेब सीरीज 'डेमेज्ड' में अपने रोल के लिए खूब मेहनत की है.

खूबसूरत एक्ट्रेस आमना शरीफ (Aamna Sharif) एक बार फिर मनोरंजन जगत में कदम रखने जा रही हैं. कभी रोमांटिक रोल में जान फूंकने वाली आमना अब बंदूक चलाती नजर आएंगी. कसौटी जिंदगी की 2 जैसे प्रोजेक्ट्स का हिस्सा रहीं आमना अब OTT प्लेटफॉर्म पर वापसी करेंगी. वेब सीरीज ‘डैमेज्ड’ में आमना अहम रोल प्ले करती नजर आएंगी. आमना खुश हैं कि उन्हें एक ऐसा रोल ऑफर हुआ जिसके जरिए वह अपने भीतर के एक्टर को चुनौती दे सकती हैं.

वेब सीरीज में आएंगी नजर

एक इंटरव्यू में आमना शरीफ (Aamna Sharif) ने अपने प्रोजेक्ट और अपने किरदार को लेकर खुलकर बातचीत की. मैंने पिछले दिनों ‘कसौटी जिंदगी की 2’ में काम किया था और फिर जान बूझकर थोड़ा ब्रेक लिया. अब आप मुझे स्क्रीन पर पहले से ज्यादा देख पाएंगे. इस वेब सीरीज में मेरा रोल न सिर्फ एक टफ पुलिस ऑफिसर का है बल्कि ये थोड़ा ग्रे शेड रोल भी है.

जमकर की रोल की तैयारी 

आमना (Aamna Sharif) ने बताया कि उन्होंने किस तरह इस रोल के लिए तैयारी की. उन्होंने कहा, ‘मैं किरदार को पूरी तरह खुद में उतार लेना चाहती थी और इसके लिए मैंने अपने डायरेक्टर के साथ कुछ वर्कशॉप कीं और खुद के ऊपर भी काफी काम किया.’ आमना ने बताया कि वह शूट के 10 दिन पहले से अपने करीबियों और सोशल सर्किल से पूरी तरह कट गई थीं.  

गन से नहीं था नाता

आमना (Aamna Sharif) ने कहा, ‘मैं बस खुद में ही रहना चाहती थी. मैंने पुलिस ऑफिसर्स के बहुत सारे इंटरव्यू और डॉक्यूमेंट्री फिल्में देखीं. मैंने उनका तौर तरीका, उनकी बॉडी लैंग्वेज समझने के लिए और ये समझने के लिए वह कैसे माहौल में कैसा बर्ताव करते हैं ये सब किया. मेरे ऐसे बहुत सारे सीन हैं जिनमें मैंने बंदूक इस्तेमाल की है जो कि मैंने अपनी पूरी जिंदगी में कभी यूज नहीं की.’

गालियों के लिए ली वर्कशॉप

आमना (Aamna Sharif) ने बताया, ‘मेरे निर्देशक विक्रांत सर ने मुझे शूटिंग के पहले एक गन दी थी जिसे मैं घर पर अपने साथ रखा करती थी.’ उन्होंने (निर्देशक ने) कहा कि प्रैक्टिस करो, इसे अपनी जिंदगी का हिस्सा बनाने की कोशिश करो ताकि जब तुम सेट पर आओ तो तुम्हारा बंदूक पकड़ना अप्राकृतिक नहीं लगे. आमना ने बताया कि उन्होंने जिंदगी में कभी गाली नहीं दी, इसलिए उन्हें इसकी भी वर्कशॉप लेनी पड़ी ताकि स्क्रीन पर गालियां स्वाभाविक लगें. उन्होंने कई दिनों तक गाली देने की प्रैक्टिस की

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button