बिज़नेस

माल्या, नीरव मोदी-मेहुल चोकसी पर मोदी सरकार को बड़ी कामयाबी

भगोड़े कारोबारी विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी (Vijay Mallya, Nirav Modi and Mehul Choksi) पर सरकार को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है।

भगोड़े कारोबारी विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी (Vijay Mallya, Nirav Modi and Mehul Choksi) पर सरकार को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। सरकार इन तीनों ही कारोबार‍ियों से सख्‍ती से न‍िपटने पर काम कर रही है। सरकार की तरफ से मंगलवार को बताया गया क‍ि अब तक इन कारोबारियों की 19,111.20 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की जा चुकी है.

कुल 22,585.83 करोड़ का फ्रॉड

वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी (Pankaj Chaudhary) ने राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि इन तीनों भगोड़े कारोबारियों ने अपनी कंपनी के माध्यम से सरकारी बैंकों के साथ हेराफेरी की है, जिसके चलते इन बैंकों को कुल 22,585.83 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. उन्होंने बताया कि 15 मार्च, 2022 तक, PMLA (धन शोधन निवारण अधिनियम) के प्रोविजन के तहत 19,111.20 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की गई है.

बैंकों को वापस किए 15,113.91 करोड़

वित्त राज्य मंत्री ने बताया कि इन 19,111.20 करोड़ रुपये में से 15,113.91 करोड़ रुपये की संपत्ति को सरकारी बैंकों को दे दी गई है. इसके अलावा 335.06 करोड़ रुपये की संपत्ति भारत सरकार ने जब्त कर लिया है. चौधरी ने सदन को बताया, ’15 मार्च, 2022 तक, धोखाधड़ी के इन मामलों में कुल फ्रॉड का 84.61 फीसदी जब्त कर लिया गया है और बेंकों को कुल नुकसान का 66.91 फीसदी वापस सौंप दिया गया है.’

तीनों की इतनी संपत्ति हुई नीलाम

मंत्री ने आगे कहा कि यहां यह उल्लेख करना उचित है कि 15 मार्च, 2022 तक, SBI के नेतृत्व वाले बैंकों के संघ ने प्रवर्तन निदेशालय (Directorate of Enforcement) द्वारा उन्हें सौंपी गई संपत्ति की बिक्री से 7,975.27 करोड़ रुपये की वसूली की है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button