उत्तर प्रदेशकन्नौज

कन्नौज में भाजपा विधायक के करीबी पूर्व प्रधान की हत्या

यूपी के कन्नौज जिले में वर्तमान प्रधान और उनके स्वजन ने कमरे में बंधक बना कर पीट-पीट कर पूर्व प्रधान की हत्या कर दी। यही नहीं पूर्व प्रधान के स्वजन को भी पीटा।

यूपी के कन्नौज जिले में वर्तमान प्रधान और उनके स्वजन ने कमरे में बंधक बना कर पीट-पीट कर पूर्व प्रधान की हत्या कर दी। यही नहीं पूर्व प्रधान के स्वजन को भी पीटा। पुलिस पहुंची तो आरोपित पूर्व प्रधान को घर से बाहर फेंक कर फरार हो गए। इसके बाद आरोपित गांव से फरार हो गए। तनाव को लेकर गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है। पूर्व प्रधान ने सरकारी स्कूल में बोरिंग कर रहे मिस्त्री से सही से काम करने की बात कही थी। यह बात आरोपित ग्राम प्रधान को नागवार गुजरी। कन्नौज जिले के तालग्राम थाना क्षेत्र के गांव नरुईया में प्राथमिक विद्यालय है। बुधवार देर शाम गांव के प्राथमिक विद्यालय में हैंडपंप की बोरिंग को केप्टी करवाई जा रही थी। इसमें लगातार बालू निकल रही थी। इसको लेकर पूर्व प्रधान अरुण शाक्य ने बोरिंग करने वाले मिस्त्री को सही से बोरिंग करने के लिए कहा। इसी बात को लेकर वर्तमान प्रधान सरोजनी देवी के स्वजन ने पूर्व प्रधान अरुण कुमार शाक्य से अभद्रता की।विरोध करने पर पूर्व प्रधान सहित उनके भाई बड़े भाई नीलू व विजय को पकड़ लिया और जमकर मारा-पीटा। मारपीट करने के बाद पूर्व प्रधान अरुण शाक्य को घर के अंदर कमरे में बंद कर लिया। यहां भी पीटा। लोगों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। वर्तमान प्रधान के स्वजन द्वारा पूर्व प्रधान को बंधक बनाए जाने की जानकारी मिली तो पुलिस गांव पहुंची। पुलिस के पहुंचने पर वर्तमान प्रधान के स्वजन अरुण को सड़क पर फेंक कर भाग गए। पुलिस ने पूर्व प्रधान को घायल अवस्था में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। हालत गंभीर होने पर प्राथमिक उपचार के बाद जिला कालेज रेफर कर दिया।पूर्व प्रधान के भाई विजय ने बताया कि जिला अस्पताल में भाई अरुण कुमार शाक्य को मृत घोषित कर दिया गया है। रंजिश में पीट-पीटकर उनकी हत्या की गई है। चुनाव का परिणाम आने के बाद से ही पूर्व प्रधान व वर्तमान प्रधान के बीच रंजिश चल रही थी। अक्सर विवाद होते थे। कई बार शिकायत भी की गई। प्रधान व उनके स्वजन के हौसले बुलंद थे।इस मामले की जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक कुंवर अनुपम ने बताया कि तहरीर मिलने पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। शांति व्यवस्था के लिए गांव में फोर्स तैनात है। रिपोर्ट -पंकज श्रीवास्तव  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button