उत्तर प्रदेशस्वास्थ्य

सस्ते व उच्च कोटि उपयोगी उत्पाद बनायें: बृजेश पाठक

पीएचडी चैम्बर की तरफ से इकोनामिक 

लखनऊ। 11 नवम्बर, सस्ते और उच्च कोटि के उत्पाद बनायें। उत्पादों को बनाने से पहले जिलास्तर पर उत्पादों की उपयोगिता व मांग का अध्ययन करें। ताकि उत्पाद की मांग व उपयोगिता का आसानी से अध्ययन किया जा सके। यह सुझाव उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने दिये।

शुक्रवार को गोमतीनगर में पीएचडी चैम्बर की तरफ से इनफ्रास्ट्रेक्चर कॉनक्लेव 2022 में इकोनॉमी को आगे बढ़ाने पर मंथन हुआ। उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने कहा कि यूपी की आबादी करीब 25 करोड़ है। 2017 के बाद यूपी में विकास ने तेजी से रफ्तार पकड़ी है। व्यापार को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने सड़कों को दुरुस्त कराने का अभियान चलाया। अभियान के तहत सड़कें दुरुस्त हुईं। फोर लेन सड़कों का तेजी से निर्माण हो रहा है। भारत में सबसे ज्यादा एक्सप्रेस वे यूपी में ही बने हैं। यही नहीं जिन जिलों में बिजली कम समय के लिए आती थी। उनमें बिजली पहुंचाई गई। इससे व्यापार की राह आसान हुई है। यूपी आर्थिक रूप से मजबूत हो रहा है। उन्होंने कहाकि कि ऐसे उत्पाद बनायें जिसकी उपयोगिता है। किफायती हों। ताकि अधिक से अधिक लोग उत्पादों को खरीदें।

 

यूपी में बना कारोबार का माहौल

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि उद्यमियों को विदेश में व्यापार फैलाने के नजरिए से उत्पाद न बनाएं। क्योंकि जब यूपी में उत्पादों की मांग बढ़ेगी तो खुद ब खुद उसकी मांग देश व विदेशों में बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बाजार का माहौल बना है। बड़े-बड़े कारोबारी प्रदेश में आना चाह रहे हैं। व्यापार विकसित करना चाह रहे हैं। सरकार अर्थव्यवस्था को दुरुस्त बनाने के लिए हर स्तर पर मदद को तैयार है। कार्यक्रम में सौरभ सन्याल, रजनीश, अभिलाश व मनोज समेत अन्य अफसर मौजूद रहे। 

  रिपोर्ट- आमिर हुसैन रिजवी, एपेक्स न्यूज इंडिया लखनऊ 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button