स्वास्थ्य

क्या एक बार डेंगू से संक्रमित होने के बाद दोबारा हो सकता है इन्फेक्शन?

यह वायरस एडीज़ एजिप्टी नाम के मच्छर के काटने से होता है। यह मच्छर मादा होती है।

 डेंगू बुखार को हड्डी तोड़ बुखार के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि इस दौरान शरीर में भयानक दर्द होता है। डेंगू का मरीज़ बुखार, सिर दर्द, आंखों में दर्द, मांसपेशियों, हड्डियों और जोड़ों में दर्द जैसे लक्षणों से गुज़रता है। प्लेटलेट्स का स्तर गिरने से त्वचा पर घाव और नाक या मसूड़ों से खून आना भी देखा जाता है

कैसे फैलता है डेंगू वायरस?

डेंगू बुखार भी एक वायरस के कारण होता है, जो एडीज़ इजिप्टी नाम के एक विशेष प्रकार के मच्छर के काटने से आता है। यह मच्छर सुबह के समय काटता है या फिर शाम को सूरज ढलने से पहले। इससे बचने के लिए मच्छर के काटने से ही बचना होगा। इसके लिए आप रिपेलेंट, नेट्स, स्प्रे आदि का उपयोग कर सकते हैं

क्या एक बार डेंगू होने के बाद दोबारा हो सकता है?

एक बार जब कोई व्यक्ति एक स्ट्रेन से संक्रमित हो जाता है, तो उसका शरीर केवल उस वायरस के स्ट्रेन के प्रति प्रतिरोधक क्षमता का निर्माण करता है। डेंगू वायरस के चार स्ट्रेन हैं। इसका मतलब है कि एक बार संक्रमित होने के बाद एक व्यक्ति को अपने जीवन में 3 बार और डेंगू बुखार हो सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button