देशब्रेकिंग न्यूज़

सम्भल में ब्लैक की जा रही राशन सामग्री पकड़ी, सीडीपीओ ने कहा दोषियों के विरूध होगी कार्यवाही

विभागीय अधिकारियों को मामले की सूचना दे दी गई है

प्रदेश की योगी सरकार भ्रष्टाचार पर लगाम कसने के भरसक प्रयास कर रही है, लेकिन दूसरी तरफ लोग बेखौफ होकर भ्रष्टाचार फैलाने मे लगे हैं। ऐसा ही एक मामला उस समय सामने आया ,जब एक आंगनबाड़ी कार्यकत्री बच्चो मे बंटने वाली खाद्य सामग्री को ब्लैक करते पकड़ी गई। प्रधान की सूचना पर पकड़ा गया माल पुलिस की कस्टडी मे है और आरोपी के विरूध कार्यवाही की तैयारी चल रही है।

मामला मूसापुर ईसापुर में आंगनबाड़ी कार्यकत्री शाहिस्ता से जुड़ा बताया जा रहा है। ग्राम प्रधान के मुताबिक शक होने पर खाद्य सामग्री सरायतरीन के मौहल्ला कोटला को ले जाई जा रही थी जिसकी की सूचना प्रधान ने पुलिस को दे दी और कालाबाजारी के लिए ले जाई जा रही राशन सामग्री को मौहल्ला कोटला सरायतरीन थाना हयातनगर से हयातनगर थाना पुलिस ने पकड़ लिया है। राशन से लदी ई रिक्शा में चार बोरी गेहूं, दो बोरी दलिया और चने की दाल व 15 किलो रिफाइंड बताया जा रहा है। विभागीय अधिकारियों को मामले की सूचना दे दी गई है। सीडीपीओ का कहना है विभागीय अधिकारियों से बात करके मामले की जांच कर दोषी के विरूद्ध उचित कार्यवाही की जाएगी। खबर लिखे जाने तक मामला दर्ज नही हुआ हो सका था। गौरतलब है कि भ्रष्टाचार का यह मामला देश के भविष्य कहलाने वाले छात्र छात्राओं से जुड़ा है। जो राशन सामग्री ब्लैक की जा रही थी वह आंगनबाड़ी केन्द्र पर पढ़ने वाले बच्चों के लिए सरकार द्धारा प्रदान की जाती है। लेकिन ब्लैक करने वाले तत्वो का इस बात से कोई सरोकार नही है। यूँ भी यह कोई अकेला मामला नही है, इससे पूर्व भी जनपद मे कई बार इस तरह के मामले पकड़ मे आ चुके हैं।

बाईट – हरपाल, रिक्शा चालक

 

बाईट – नूर मौहम्मद, ग्राम प्रधान

 

बाईट – नीता सैनी, सीडीपीओ

रिपोर्टर – उवैस दानिश

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button