देशब्रेकिंग न्यूज़राजनीति

गोरखनाथ मंदिर के अनुष्‍ठानों में बतौर गोरक्षपीठाधीश्‍वर शामिल होंगे सीएम योगी

सीएम योगी आदित्‍यनाथ रविवार दोपहर बाद गोरखपुर पहुंचे। गोरखनाथ मंदिर में उन्‍होंने महानिशा पूजा और हवन किया। अगले तीन दिन यानी विजयदशमी तक गोरक्षपीठ में कई धार्मिक अनुष्‍ठान होंगे।

सीएम योगी आदित्‍यनाथ रविवार दोपहर बाद गोरखपुर पहुंचे। गोरखनाथ मंदिर में उन्‍होंने महानिशा पूजा और हवन किया। अगले तीन दिन यानी विजयदशमी तक गोरक्षपीठ में कई धार्मिक अनुष्‍ठान होंगे। मुख्यमंत्री गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ ने रविवार की रात गोरक्षपीठ के शक्ति मंदिर में पूरे विधि विधान से विशिष्ट महानिशा पूजा का अनुष्ठान पूरा कर लोक कल्याण की मंगलकामना की। शारदीय नवरात्र पर्व की नवमी तिथि पर कन्या पूजन और दशमी तिथि पर गोरक्षपीठ से निकलने वाले परंपरागत विजय शोभायात्रा सहित अगले तीन दिन तक चलने वाले विभिन्‍न अनुष्‍ठानों में बतौर गोरक्षपीठाधीश्‍वर शामिल रहेंगे।

बतादें कि कानपुर हादसे के पीड़ित परिवारों और घायलों से मिलने के बाद सीएम योगी रविवार दोपहर बाद गोरखपुर पहुंचे। रात को बतौर गोरक्षपीठाधीश्‍वर उन्‍होंने यहां शक्ति मंदिर में महानिशा पूजा और हवन किया। महानिशा पूजा से पहले सप्तमी तिथि के मान में मां दुर्गा के सप्तम स्वरूप मां कालरात्रि की सुबह और शाम के सत्र में विधि विधान से पूजा हुई। सुबह के सत्र में पूजन, अनुष्ठान गोरखनाथ मंदिर के प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ ने किया। महानिशा पूजा का अनुष्ठान रविवार रात गोरखनाथ मंदिर के शक्तिपीठ में गोरक्षपीठाधीश्वर और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में शुरू हुआ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button