राजनीतिस्वास्थ्य

कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में मल्लिकार्जुन खड़गे सबसे आगे

मल्लिकार्जुन खड़गे, शशि थरूर ने किया नामांकन

कांग्रेस अध्यक्ष पद चुनाव के लिए नामांकन का कार्य हुआ…सबसे पहला नॉमिनेशन शशि थरूर ने भरा….. इसके बाद गांधी फैमिली की पसंद मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी नॉमिनेशन फाइल किया……. इस दौरान कांग्रेस दफ्तर से जो तस्वीरें सामने आई, उससे खड़गे का अध्यक्ष बनना तय माना जा रहा है……..खड़गे के साथ पार्टी के 30 बड़े नेता मौजूद रहे, जबकि शशि थरूर अलग-थलग दिखे….इन दोनों के अलावा, झारखंड कांग्रेस लीडर केएन त्रिपाठी ने भी नॉमिनेशन किया…कांग्रेस में बदलाव की वकालत करने वाले जी-23 समूह के नेता आनंद शर्मा और मनीष तिवारी भी खड़गे के प्रस्तावकों में शामिल थे…..इससे पहले, मनीष तिवारी ने कहा कि वह और उनके साथी आनंद शर्मा खड़गे को सपोर्ट करेंगे…..ये 30 नेता खड़गे के प्रस्तावक बने: एके एंटनी, अशोक गहलोत, अंबिका सोनी, मुकुल वासनिक, आनंद शर्मा, अभिषेक मनु सिंघवी,अजय माकन, भूपिंदर हुड्डा, दिग्विजय सिंह, तारिक अनवर, सलमान खुर्शीद, अखिलेश प्रसाद सिंह, दीपेंदर हुड्डा, नारायण सामी, वी वथिलिंगम, प्रमोद तिवारी, पीएल पुनिया, अविनाश पांडे, राजीव शुक्ला, नासिर हुसैन, मनीष तिवारी, रघुवीर सिंह मीणा, धीरज प्रसाद साहू, ताराचंद, पृथ्वीराज चौहान, कमलेश्वर पटेल, मूलचंद मीणा, डॉ. गुंजन, संजय कपूर और विनीत पुनिया।

दिग्विजय सिंह ने खड़गे का नाम अध्यक्ष पद के लिए सामने आने के बाद चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया…..खड़गे से मिलने भी पहुंचे…… इस मुलाकात के बाद उन्होंने मीडिया के सामने अपनी बात रखी….दिग्विजय ने कहा, “कैमरे पर बात करूंगा, भागने वाला नेता नहीं हूं…. कांग्रेस के लिए काम किया है….. काम करता रहूंगा…तीन बातों पर कोई समझौता नहीं करूंगा……..पहली बात- दलित, आदिवासी के मामलों में समझौता नहीं करता……… दूसरी बात- साम्प्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने वालों से समझौता नहीं करता…….. तीसरी बात- गांधी परिवार के साथ निष्ठा से समझौता नहीं करूंगा…….मैं कल खड़गेजी के घर गया और पूछा कि आप अगर नॉमिनेशन कर रहे हो तो मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा………प्रेस के माध्यम से जानकारी मिली कि वे कैंडिडेट हैं…मैं आज फिर उनके घर गया और कहा कि आप वरिष्ठ नेता हैं, मैं आपके खिलाफ चुनाव लड़ने की बात सोच भी नहीं सकता….. अब उनका इरादा चुनाव लड़ने का है तो मैं उनका प्रस्तावक बनना स्वीकार करता हूं।” गहलोत के नोट्स में पायलट के पार्टी छोड़ने की बात.. पढ़िए लीक हुए नोट्स में क्या-क्या लिखा था…सबसे पहले अपडेट्स के जरिए ताजा घटनाक्रम जान लीजिए…अशोक गहलोत भी खड़गे से मिलने पहुंचे……. इस मुलाकात के बाद कहा- खड़गे अनुभवी नेता हैं……… उनका चुनाव लड़ने का फैसला सही है……कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव अब फ्रेंडली मैच है……. हम सभी लोग एकजुट हैं…..शशि थरूर ने कहा कि मल्लिकार्जुन जी बेहद सम्मानित साथी हैं……..जितने ज्यादा लोग चुनाव में उतरेंगे, कांग्रेस उतनी ही बेहतर होगी……झारखंड कांग्रेस लीडर केएन त्रिपाठी भी अध्यक्ष पद के लिए नॉमिनेशन फाइल किया…… 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button