स्वास्थ्य

बहुत ज्यादा विटामिन्स का सेवन भी नुकसानदायक

शरीर को स्वस्थ रखने और बीमारियों के जोखिम को कम करने के लिए आहार के माध्यम से पोषक तत्वों को प्राप्त करना बहुत आवश्यक माना जाता है।

विटामिन सी की अधिकता खट्टे फल इस विटामिन का प्रमुख स्रोत माने जाते हैं। वयस्कों के लिए 2,000 मिलीग्राम प्रतिदिन की मात्रा में इस विटामिन का सेवन करना सुरक्षित माना जाता है, हालांकि इसकी अधिकता कई प्रकार के स्वास्थ्य जोखिमों का कारण बन सकती है। विटामिन-सी की मात्रा बढ़ने के कारण दस्त और जी मिचलाना सबसे आम समस्या है। इसके अलावा यह शरीर से ऑक्सालेट को भी बढ़ा देती है जिसके कारण किडनी में पथरी बनने का खतरा हो सकता है।

विटामिन-डी की अधिकता से नुकसान इम्युनिटी बढ़ाने से लेकर हड्डियों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन-डी सबसे कारगर मानी जाती है। विटामिन डी की अनुशंसित मात्रा 400-800 आईयू/दिन है, इससे अधिक की मात्रा कई प्रकार की समस्याओं का कारण बन सकती है। विटामिन डी की अधिकता रक्त  में कैल्शियम की मात्रा (हाइपरकैल्सीमिया) को बढ़ा देती है, जिससे मतली और उल्टी, कमजोरी और बार-बार पेशाब आने की समस्या होने लगती है।

विटामिन-ई की अधिकता विटामिन-ई त्वचा और आंखों को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करती है। कई प्रकार की बीमारियों और संक्रमण के खिलाफ शरीर की प्राकृतिक प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए भी इसकी आवश्यकता होती है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button