देश

चक्रवाती तूफान में नहीं बदलेगा उत्तरी अंडमान सागर पर बना गहरा दबाव

IMD के अनुमान के मुताबिक, ‘म्यांमा तट पर और उससे सटे पूर्वी-मध्य बंगाल की खाड़ी और उत्तरी अंडमान सागर पर मंगलवार दोपहर से 12 घंटों के लिए धीरे-धीरे कम होकर हवा की रफ्तार 45-55 किलोमीटर प्रति घंटे हो सकती है.’

उत्तरी अंडमान सागर पर गहरे दबाव के क्षेत्र के चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना नहीं है और इसके पहले की अपेक्षा कम गति के साथ थांडवे में दक्षिणी म्यांमा तट को पार करने की संभावना है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मंगलवार को यह जानकारी दी. मौसम विभाग ने पहले कहा था कि गहरे दबाव के क्षेत्र के चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है.

22 मार्च को पार करेगा तट

IMD ने कहा, ‘यह अंडमान द्वीप समूह से दूर उत्तर की ओर बढता रहेगा और 22 मार्च की दोपहर को 16 डिग्री उत्तरी और 18 डिग्री उत्तरी अक्षांश के बीच गहरे दबाव के क्षेत्र के तौर पर म्यांमा तट को पार करेगा.’ मौसम कार्यालय ने कहा कि अंडमान द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है और क्षेत्र में भारी बारिश की संभावना नहीं है.

45-55 किलोमीटर प्रति घंटे चलेगी हवाएं

आईएमडी ने बुलेटिन में कहा, ‘उत्तरी अंडमान सागर और उससे सटे पूर्वी-मध्य बंगाल की खाड़ी और म्यांमा तट पर 55-65 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल रही हैं.’

इसमें कहा गया है, ‘म्यांमा तट पर और उससे सटे पूर्वी-मध्य बंगाल की खाड़ी और उत्तरी अंडमान सागर पर मंगलवार दोपहर से 12 घंटों के लिए धीरे-धीरे कम होकर हवा की गति 45-55 किलोमीटर प्रति घंटे हो सकती है.’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button