उत्तर प्रदेशस्वास्थ्य

डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए

बुखार पीड़ितों के लिए अस्पतालों में बनाएं फीवर डेस्क

लखनऊ, 19 अक्टूबर, उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने सभी अस्पतालों में फीवर डेस्क बनाने के निर्देश दिए हैं। इसके तहत बुखार पीड़ितों को अलग से इलाज मुहैया कराया जाए। इसमें डॉक्टर की सलाह से लेकर दवा तक की सुविधा मरीजों के लिए सुनिश्चित करें।

प्रदेश के कई जिलों में वायरल समेत दूसरे बुखार के मरीज आ रहे हैं। मरीजों को बेहतर इलाज उपलब्ध कराने के लिए उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने बुधवार को बुखार प्रभावित जिलों के सीएमओ व अस्पताल के सीएमएस से अस्पतालों में फीवर डेस्क बनाने के निर्देश दिए हैं। ताकि बुखार पीड़ितों को इलाज के लिए ज्यादा देर कतार में ना लगना पड़े। बुखार के मरीजों का आसानी से पंजीकरण हो। हेल्प डेस्क पर मरीज के शरीर के तापमान की जांच हो। लक्षणों के आधार पर मरीजों की पैथोलॉजी जांच कराई जाए। साथ ही दवा मुहैया कराई जाए। बुखार पीड़ितों को 7 से 15 दिन की दवाएं उपलब्ध कराई जाए। ताकि उन्हें बार-बार अस्पताल की दौड़ ना लगानी पड़े।

ये दिए निर्देश………………………. बुखार पीड़ितों को जरूरत के अनुसार भर्ती किया जाए……. प्लेटलेट्स की जांच कराई जाए……… डेंगू या मलेरिया के लक्षण नजर आने पर जांच कराई जाए……….. अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि मरीजों को सभी दवाएं अस्पताल से मिले……..डेंगू मरीज मच्छरदानी में भर्ती किए जाएं…… डेंगू-मलेरिया प्रभावित इलाकों में एंटी लार्वा का छिड़काव कराया जाए………. समय-समय फॉगिंग कराई जाए………बुखार पीड़ितों की पहचान के लिए स्क्रीन अभियान में तेजी लाई जाए……… 

  रिपोर्ट- आमिर हुसैन रिजवी, एपेक्स न्यूज इंडिया, लखनऊ (9335280142)    

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button