लाइफस्टाइल

डायबिटीज टाइप 2 का खतरा महिलाओं को ज्यादा होता है।ऐसे सुपरफूड्स हैं, जिन्हें खाने से महिलाओं में डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है।

बीमारियां कभी भी किसी को भी हो सकती है लेकिन बात करें इसके असर की, तो हर व्यक्ति पर इनका असर अलग-अलग होता है।

बीमारियां कभी भी किसी को भी हो सकती है लेकिन बात करें इसके असर की, तो हर व्यक्ति पर इनका असर अलग-अलग होता है। खासकर एक ही बीमारी महिलाओं और पुरुषों दोनों पर अलग-अलग असर डालती है. जैसे, डायबिटीज टाइप 2 का खतरा महिलाओं को ज्यादा होता है। वहीं, प्रेग्नेंसी में तो महिलाओं को और भी अपना ख्याल रखना चाहिए। डायबिटीज को कंंट्रोल करने का सबसे अच्छा तरीका है कि हेल्दी डाइट और एक्सरसाइज से ब्लड शुगर कंट्रोल किया जाए। ऐसे सुपरफूड्स हैं, जिन्हें खाने से महिलाओं में डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है। फैटी फिश  सैल्मन, मैकेरल, सार्डिन, टूना और एन्कोवी जैसी फैटी मछली ओमेगा -3 फैटी एसिड डोकोसाहेक्सैनोइक एसिड (डीएचए) और ईकोसापेंटेनोइक (ईपीए) का सबसे अच्छा स्त्रोत है। फैटी एसिड इंसुलिन, लिपिड लेवल को इम्प्रूव करता है और हार्मोनल फ़ंक्शन को फिर से एक्टिव करता है। मछली के नियमित सेवन से हार्ट अटैक और स्ट्रोक होने का खतरा भी कम होता है। मछली खाने से वेट कंट्रोल रहता है और मसल्स भी स्ट्रॉन्ग होती है। अदरक  अदरक वाली चाय तो सभी को पसंद होती है। एंटी-ऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर, अदरक फास्टिंग ब्लड शुगर लेवल को कम कर सकता है। अदरक को अपनी डाइट में शामिल करने से दिल, थायराइड और डाइजेशन बेहतर रहते हैं। आप अदरक वाली चाय के साथ इसे सब्जी में भी डालकर खा सकते हैं।
हल्दी हर भारतीय घर में हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है। इसके एंटी-ऑक्सीडेंट गुण कई बीमारियों को कंट्रोल करते हैं। करक्यूमिन, हल्दी का मुख्य पोषक तत्व है, जिससे ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है. इस सुपरफूड को खाने में डालने के अलावा हल्दी वाला दूध पीना भी महिलाओं के लिए फायदेमंद होता है। पालक पालक विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होती हैं, जो कई पुरानी बीमारियों को रोकने में मदद करती हैं। कैलोरी में कम होने के साथ पालक आसानी से डाइजेस्ट होकर रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ाए बिना शरीर द्वारा जल्दी से अवशोषित हो जाता है। हरी सब्जियां विटामिन सी से भी भरपूर होती हैं। आपके शरीर में अगर सूजन आ जाती है, तो भी आपको पालक का इस्तेमाल करना चाहिए।
अखरोट अखरोट सबसे पौष्टिक और सेहतमंद माना जाता है। अखरोट खाने से भूख कंट्रोल होती है इसलिए इससे ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रहता है। अखरोट में मौजूद फैटी एसिड अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ाकर और हानिकारक कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करके आपके दिल को सुरक्षित रखते हैं।  रोजाना अखरोट खाने से ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने और मोटापे के खतरे को कम करने में भी मदद मिलती है। एक दिन में दो साबुत अखरोट खाने से इम्यूनिटी स्ट्रॉन्ग होती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button