स्वास्थ्य

गर्भावस्था में 15 से 20 मिनट जरूर करें स्ट्रेचिंग

प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में कई तरह के बदलाव आते हैं। कमर पैर और हिप्स में तो कई बार लगातार दर्द बना रहता है।

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में हॉर्मोनल बदलाव होते हैं जिसकी वजह से कई तरह की शारीरिक व मानसिक समस्याएं देखने को मिलती हैं। पीठ दर्द, गले-कंधे में दर्द, ब्लोटिंग, वजन बढ़ना, बालों का झड़ना, पैरों में सूजन इनमें सबसे आम समस्याएं हैं। जिनके लिए हर बार दवाइयां नहीं खा सकते, क्योंकि ये आपके साथ होने वाले बच्चे की सेहत के लिए भी नुकसानदायक होते हैं।

गर्भावस्था में योग के फायदे

गर्भावस्था में बहुत ज्यादा भागदौड़ वाली एक्सरसाइज करने की गलती बिल्कुल न करें। वर्कआउट्स के ऐसे ऑप्शन चुनें, जो बिना थकाए आपको इन तकलीफों से राहत दिलाए। जिसके लिए बेस्ट है योग। प्रेग्नेंसी में रोजाना योग करने से बॉडी को एनर्जी मिलती है

1. सीटेड साइड स्ट्रेचिंग

ये बहुत ही कारगर स्ट्रेचिंग है। जो कमर के साथ पीठ के दर्द से राहत दिलाता है। बस ध्यान रखें कि बहुत ज्यादा न झुकें। क्‍योंक‍ि इससे नसें ख‍िंच सकती हैं। कैसे करें – पैरों को सामने की ओर फैलाकर बैठ जाएं। – इसके बाद बाएं पैर को मोड़ते हुए दाएं पैर की थाइज़ के पास रखें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button