उत्तर प्रदेशदेशब्रेकिंग न्यूज़मथुरा

मथुरा में भारी बारिश के साथ बहने लगे किसानों के आँसू

मथुरा जनपद के गोवर्धन तहसील में पिछले कई दिनों से हो रही तेज बारिश से किसानों की फसलों पर पानी फिर गया है। फसलें पूरी तरह से डूब कर जलमग्न हो गई है।

मथुरा जनपद के गोवर्धन तहसील में पिछले कई दिनों से हो रही तेज बारिश से किसानों की फसलों पर पानी फिर गया है। फसलें पूरी तरह से डूब कर जलमग्न हो गई है। खेतों में कई कई फुट पानी ही पानी नजर आ रहा है। तेज बारिश से जहाँ क्षेत्र के बाँधों का जलस्तर बढ़ रहा है। वहीं बारिश का पानी खेतों में भर जाने से क्षेत्र के किसानों की फसलें चौपट हो गई है। निरतर हो रही अतिवर्षा ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। किसानों के चेहरों पर चिंता की लकीरे देखी जा सकती है। किसान अतिवर्षा से बर्बाद हुई फसलों का सर्वे कराकर मुआवजे की माँग उठा रहे है। सूखे से जूझते किसानों ने अच्छे मानसून की उम्मीद में खेतों को तैयार कर धान , ज्वार की फसलें बोई थीं और सुनहरे सपने संजोये थे। मगर बीते दिनों से हो रही निरतर बारिश ने उनके सपने एक बार फिर चूर कर दिये है।

अतिवर्षा होने से खेतों में पानी भर गया है, जिससे खेतों में खड़ी फसलें डूबकर तबाह हो गई है। तहसील गोवर्धन के डेढ़ दर्जन से भी ज्यादा ग्रामों में चल रही लगातार तेज बारिश में खरीफ की फसलों को तबाह कर दिया। ग्रामीणों का कहना है, हमारे क्षेत्र में एक भी ऐसा गाँव नहीं बचा जो जलमग्न नहीं हुआ हो। खेत बारिश के पानी से भरे पड़े हैं और फसलों का स्वाहा हो गया। वही ग्राम पाली, डिरावली , देवपुरा, कुन्जेरा आदि के ग्रामवासी अपनी फसलों को देखकर माथे से हाथ लगाए बैठे हैं। किसानों ने आर्थिक मदद दिलाये जाने की माँग की है।

रिपोर्टर – बाबू सिंह जादौंन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button