उत्तर प्रदेशदेशफिरोजाबादब्रेकिंग न्यूज़

फिरोजाबाद: पिता की डांट से नाराज छात्र रेलवे स्टेशन की पटरी पर लेटा

मारने वाला है भगवान, बचाने वाला है भगवान लेकिन आत्महत्या करने आए आईटीआई के छात्र को बचाने के लिए जीआरपी सब इंस्पेक्टर संग स्टेशन और मौजूद जनता भगवान बन गयी।

मारने वाला है भगवान, बचाने वाला है भगवान लेकिन आत्महत्या करने आए आईटीआई के छात्र को बचाने के लिए जीआरपी सब इंस्पेक्टर संग स्टेशन और मौजूद जनता भगवान बन गयी। छात्र का नाम अनुज कुमार, निवासी हिमायुपुर है जिसकी जिंदगी जीआरपी स्पेक्टर संग जनता ने बचा ली।

फिरोजाबाद के आईटीआई में पढ़ने वाला छात्र मनोज कुमार ने रेलवे स्टेशन के पास रेल की पटरी पर सिर रखकर आत्महत्या करने की सोची। शिकोहाबाद से ट्रेन आ रही थी जैसे ही ट्रेन को थोड़ी दूरी पर युवक ने देखा वह रेल की पटरी पर लेट गया। वहीं पर मौजूद जीआरपी के सब इंस्पेक्टर संतोष कुमार संग यात्रियों ने देख लिया। सभी लोग उस युवक को बचाने के लिए लपके और चंद सेकंड में ही युवक को पटरी से उठाकर प्लेटफार्म पर ले आए। यह सारा नजारा रेलवे स्टेशन पर लगे सीसीटीवी में कैद हो गया। दरअसल युवक को उसके पिताजी ने डांट दिया था और कहा था कि तुम अपना मुंह मत दिखाना। इसी को लेकर ही युवक आया और उसने रेलवे स्टेशन पर आत्महत्या की कोशिश की। लेकिन हमने उससे बात की और उसके परिजनों को भी बुलाया युवक को परिजनों को सौंप दिया।

रिपोर्टर – बृजेश सिंह राठौर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button