लाइफस्टाइल

नेचुरल तरीके से चिंता और तनाव को दूर करने के लिए फॉलो करें

तनाव और अवसाद से पीड़ित व्यक्ति अंधकारमय दुनिया में जीने की कोशिश करने लगता है

तनाव एक मानसिक विकार है। यह अवस्था उस समय मस्तिष्क में आती है। जब मन और मस्तिष्क विषम परिस्थिति के बीच सामंजस्य नहीं बिठा पाता है। इससे मानसिक असंतुलन पैदा होता है। आसान शब्दों में कहें तो व्यक्ति विषम परिस्थिति में मानसिक संतुलन को काबू में नहीं रख पाता है। इस स्थिति में व्यक्ति अकेला महसूस करने लगता है।

तनाव और अवसाद से हार्ट रेट बढ़ जाता है। साथ ही पसीना आना, थकान, कमजोरी महसूस होना, हाइपरवेंटिलेशन यानी सांस तेज चलना, घबराहट आदि समस्या होती है। इसके लिए सबसे पहले खुद को शांत रखें। अगर आप इनमें कोई लक्षण महसूस करते हैं, तो खुद को शांत रखने की कोशिश करें। योग और ध्यान करें।

-इसके अलावा, सांसों की एक्सरसाइज जरूर करें। जब कभी आप तनावग्रस्त रहते हैं, तो उस समय सांसों से संबंधित एक्सरसाइज जरूर करें।

-अपनी डाइट में ओमेगा-3 फैटी एसिड युक्त चीजों को डाइट में जरूर शामिल करें। इससे तनाव में आराम मिलता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button