देशब्रेकिंग न्यूज़

पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव का गुरुवार की रात में हुआ निधन

कई सरकारों में केंद्रीय मंत्री भी रहे चुके थे शरद यादव

पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव का गुरुवार की रात में निधन हो गया। बता दे की उनकी बेटी ने फेसबुक पोस्ट के जरिए इसकी पुष्टि की। शरद यादव 75 साल के थे। वो कई सरकारों में केंद्रीय मंत्री भी रहे चुके थे। उन्होंने 2018 में लोकतांत्रिक जनता दल का गठन किया था। वही उन्होंने मार्च 2020 में लालू यादव के संगठन राजद में विलय कर लिया।

वही उनके निधन पर राजनीतिक जगत में शोक की लहर दौड़ गई। पीएम मोदी ने उनके देहांत पर दुख जताते हुए कहा कि शरद यादव के निधन से बहुत दुख हुआ। अपने लंबे सार्वजनिक जीवन में उन्होंने खुद को सांसद और मंत्री के रूप में प्रतिष्ठित किया। वे डॉ. लोहिया के आदर्शों से काफी प्रभावित थे। पीएम ने कहा की मैं हमेशा हमारी बातचीत को संजो कर रखूंगा। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदनाएं।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी दिग्गज राजनेता के निधन पर शोक व्यक्त किया। और उन्होंने कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं देश के बड़े वरिष्ठ नेता शरद यादव के निधन से मुझे गहरी वेदना की अनुभूति हुई है। अपने लंबे राजनीतिक जीवन में उन्होंने हमेशा समाज के कमजोर वर्गों की समस्याओं को पुरजोर तरीके से उठाया। उन्होंने कहा की आपातकाल के दौरान लोकतंत्र की रक्षा के लिए भी उन्होंने काफी संघर्ष किया। उनके निधन से भारतीय राजनीति की एक प्रभावी आवाज खामोश हो गई है। दुःख की इस घड़ी में मैं उनके शोकाकुल परिवार और समर्थकों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। ओम् शांति!

बता दे की कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने भी शरद यादव के निधन पर शोक जताया। और ट्वीट कर कहा कि मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा है।

वही कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि देश की समाजवादी धारा के वरिष्ठ नेता, जेडीयू के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव के निधन से दुःखी हूं। एक पूर्व केंद्रीय मंत्री व दशकों तक एक उत्कृष्ट सांसद के तौर पर देश सेवा का कार्य कर उन्होंने समानता की राजनीति को मजबूत किया। उनके परिवार एवं समर्थकों को मेरी गहरी संवेदनाएं।

सिंगापुर से राजद प्रमुख लालू यादव ने वीडियो जारी कर शरद यादव के निधन पर शोक जताया। लालू ने कहा की अभी सिंगापुर में रात्रि में के समय शरद भाई के जाने का दुखद समाचार मिला। बहुत बेबस महसूस कर रहा हूँ। आने से पहले मुलाक़ात हुई थी और कितना कुछ हमने सोचा था समाजवादी व सामाजिक न्याय की धारा के संदर्भ में।

वही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शरद यादव के निधन पर दुख जताया और शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी विरासत चलती रहेगी। यादव को एक कद्दावर राजनेता बताते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि वह एक बेहद सम्मानित सहयोगी थे। ममता ने ट्वीट किया, श्री शरद यादव के निधन के बारे में सुनकर मुझे दुख हुआ है। एक दिग्गज राजनेता और बेहद सम्मानित सहयोगी, उनकी विरासत जीवित रहेगी। मैं प्रार्थना करती हूं कि उनके परिवार और अनुयायियों को दुख की इस घड़ी में धैर्य और शक्ति मिले।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button