अन्यक्राइम न्यूज़देशब्रेकिंग न्यूज़

झारखण्ड के दुमका में जलाई गयी लड़की के घर से मिली पूरी रिपोर्ट : पिता ने बोला शाहरुख़ मेरी बेटी को देता था धमकियाँ

झारखंड के दुमका में 23 अगस्त की सुबह शाहरुख नाम के लड़के ने घर में सो रही 16 साल की लड़की को पेट्रोल डालकर जला दिया। पांच दिन तक जिंदगी के लिए लड़ने के बाद 28 अगस्त को उसने दम तोड़ दिया।

उस रात हुआ क्या था… ये जानने के लिए संकरी गलियों में पता पूछते हुए हम लड़की के घर पहुंचे। ये 4 कमरों का मकान है। टिन के गेट पर दस्तक दी, तो लड़की के पिता ने दरवाजा खोला। सामने उसकी दादी चूल्हा जलाने के लिए लकड़ियां जमा रही थीं। छोटे से आंगन से गुजरते हुए हम घर के अंदर दाखिल हुए।   यहां जिस लड़की की बात हो रही है, हम उसका नाम और पहचान नहीं बता रहे हैं, क्योंकि केस प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रन अगेंस्ट सेक्सुअल ऑफेंस (पॉक्सो) एक्ट में दर्ज है। बेटी को खोने के बाद पिता गहरे सदमे में हैं, लेकिन उन्होंने हमसे बात की।   10-15 दिन पहले शाहरुख हुसैन ने मेरी बेटी का नंबर उसकी किसी सहेली से लिया था। इसके बाद 4-5 बार मिलने के लिए कहा। मेरी बेटी ने मना किया तो 22 अगस्त को धमकी दी कि बात नहीं करोगी, तो तुम्हें जान से मार देंगे। रात 10 बजे मैं घर पहुंचा, तो बेटी ने मुझे ये सब बताया। परिवार ने तय किया कि सुबह देखते हैं कि क्या करना है, लेकिन वह सुबह आ ही नहीं पाई।’ डेढ़ साल पहले पत्नी नहीं रही, अब बेटी लड़की के 6 लोगों के परिवार में उसके पिता, बड़ी बहन, छोटा भाई और दादा-दादी थे। मां कैंसर से करीब डेढ़ साल पहले ही गुजर गई। पिता प्राइवेट नौकरी करते हैं। इसी से गुजारा होता है। set on fir अंदर एक कमरे की ओर इशारा करते हुए पिता ने कहा- वह खिड़की के पास जो तखत लगा है, मेरी बेटी उस रात उसी पर सोई थी। सुबह 4 बजे वह चीखी– पापा बचा लो, पापा मुझे बचा लो। शाहरुख ने मुझे जला दिया है। मैं भागकर गया और दरवाजा खोला। सामने बेटी जल रही थी। मैं कंबल और चादर से आग बुझाने लगा। बेटी ने भी खुद पर पानी डाल लिया, ताकि जलन खत्म हो।’ 13 साल के भाई ने बहन को जलते देखा लड़की का 13 साल का एक भाई है। उसने भी सब कुछ सामने होते देखा। भाई ने बताया कि मेरी दीदी घर में इधर से उधर भाग रही थी। वह दर्द से चिल्ला रही थी। मैं और दादी बगल के कमरे में सोए थे। दीदी की हालत देखकर हम जोर-जोर से रोने लगेl

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button