स्वास्थ्य

पित्ताशय की पथरी के कारण, लक्षण और बचाव

पित्ताशय में पथरी (Gallbladder Stone) होने पर व्यक्ति को काफी दर्द का सामना करना पड़ता है। जानते हैं इसके लक्षण, कारण और उपचार

पित्ताशय की पथरी (Gallbladder Stone in Hindi) यानी पित्त की पथरी। यह समस्या गलत आहार या गलत जीवनशैली के कारण पैदा हो जाती है। इस समस्या के होने पर व्यक्ति को पेट में सूजन, दर्द, उल्टी आना आदि लक्षण नजर आते हैं

पित्त की पथरी होने के लक्षण पित्ताशय में तेज दर्द होना, पेट फूलना , उल्टी आना या जी मचलाना ,बुखार हो जाना ,

पित्त की पथरी होने के कारण

जिन लोगों को पित्ताशय पथ में संक्रमण या लिवर सिरोसिस होता है उन्हें भी पित्त की पथरी हो सकती है।

जिन लोगों ने ऑर्गन ट्रांसप्लांट करवाया है वे भी इस समस्या के शिकार हो सकते हैं।

जिन लोगों का ज्यादा वजन होता है उन्हें भी ये समस्या हो सकती है।

पित्ताशय की पथरी से बचाव

जो लोग कॉफी, चाय, सिगरेट, शराब का सेवन करते हैं वे इन चीजों को अपनी डाइट में निकाल दें।

सुबह खाली पेट नींबू का रस पानी के साथ मिलाकर पिएं।

विटामिन सी के सेवन से प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है ऐसे में कोलेस्ट्रॉल पित्त में बदल जाता है।

आहार में भरपूर मात्रा में हरी सब्जी और फल का सेवन करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button