विदेश

पूर्वी यूरोप में लगातार बढ़ते तनाव के बीच ; बाइडेन पुतिन से सशर्त मिलने को तैयार

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन यूक्रेन संकट को टालने के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मिलने को तैयार हो गए हैं। हालांकि, मुलाकात से पहले बाइडेन पुतिन से यूक्रेन पर हमला न करने का वादा चाहते हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन यूक्रेन संकट को टालने के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मिलने को तैयार हो गए हैं। हालांकि, मुलाकात से पहले बाइडेन पुतिन से यूक्रेन पर हमला न करने का वादा चाहते हैं। अगर सब कुछ सही रहता है तो इस हफ्ते के आखिर में दोनों मिल सकते हैं। न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने बताया, इस मीटिंग का वक्त और मुद्दे अभी तय नहीं हैं। वहीं, एक अन्य अधिकारी ने इस तरह की संभावना को पूरी तरह से खारिज कर दिया। व्हाइट हाउस ने बयान जारी करते हुए इस बात की भी जानकारी दी की राष्ट्रपति बाइडेन रूस और यूक्रेन की स्थिति की चर्चा G7 नेताओं के साथ करेंगे.

अब रूस भी खतरे की जद में

यूक्रेन के साथ जारी तनाव के बीच रूस के लिए परेशान करने वाली खबर सामने आई है। रूस स्थित अमेरिकन एम्बेसी ने मॉस्को, सेंट पीटर्सबर्ग समेत कई शहरों पर हमले की चेतावनी जारी की है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूक्रेन के साथ जारी तनाव के बीच रूस के कई शहरों में शॉपिंग सेंटर, रेलवे और मेट्रो स्टेशनों और पब्लिक प्लेस पर हमला हो सकता है। अमेरिकी एम्बेसी के प्रवक्ता जेसन रेभोल्ज ने सोशल मीडिया पर प्रेस रिलीज जारी करते हुए लिखा, “रूस के लिए अमेरिकी मिशन की ओर से इंपॉर्टेंट सिक्योरिटी अलर्ट

रूस से बाहर निकलने का प्लान तैयार रखें अमेरिकन एम्बेसी ने अलर्ट में कहा- भीड़ भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें, अपनी सिक्योरिटी के बारे में दोस्तों और परिवार से जानकारी साझा करें। टूरिस्ट प्लेसेस पर सतर्क रहें और रूस से बाहर निकलने का प्लान तैयार रखें। इसके साथ ही एम्बेसी ने अमेरिकी नागरिकों से असली पहचान पत्र साथ रखने की अपील की है, जिसमें रूसी वीजा और अमेरिकन पासपोर्ट शामिल है।

बाइडेन और मैक्रों ने फोन पर बात की जो बाइडेन ने रविवार को फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों से रूस के मिलिट्री डेवलपमेंट को रोकने के लिए की जा रही डिप्लोमैटिक कोशिश पर चर्चा की। व्हाइट हाउस की तरफ से जारी बयान में कहा गया, राष्ट्रपति बाइडेन ने आज फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से फोन पर बात की। दोनों नेताओं ने रूस के सैन्य निर्माण के जवाब में की जा रही डिप्लोमैटिक कोशिशों पर बात की, साथ ही यूक्रेन की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता बरकरार रखने के लिए अपना समर्थन जताया।

यूक्रेन पर हमला करने का आदेश

पूर्वी यूरोप में लगातार बढ़ते तनाव के बीच रूस और फ्रांस इस बात पर सहमत हो गए कि यूक्रेन विवाद पर अब तनाव कम किया जाना चाहिए।

न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पुतिन ने पिछले हफ्ते रूसी फोर्सेस को यूक्रेन पर हमला करने का आदेश दिया था। जिसके बाद जो बाइडेन ने इस बारे पब्लिक अनाउंसमेंट किया। हालांकि, अमेरिकी अधिकारियों ने इस बारे में अधिक जानकारी देने से इनकार कर दिया।

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने एक बार फिर रूस पर फाल्स फ्लैग ऑपरेशन जारी रखने का आरोप लगाया। वहीं, एक चेतावनी में यह भी बताया गया है कि रूस की तरफ से युद्ध का बहाना गढ़ने के लिए कई तरह की पटकथा रची गई है, इस वजह से अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि अगला रूसी हमला किस तरह का होगा।

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने रूस पर आक्रामक गतिविधियों का जारी रखने का आरोप लगाया।

रूस फुल स्केल वॉर शुरू कर सकता है शुक्रवार को जारी अमेरिकन इंटेलिजेंस रिपोर्ट में बताया है कि यूक्रेन के पास तैनात 1.50 लाख रूसी सिपाहियों में 40% से 50% जल्द ही फुल स्केल वॉर शुरू कर सकते हैं। अधिकारियों ने कहा- रूस बॉर्डर लाइन पर हमले करके यूक्रेन को युद्ध के लिए उसका रहा है, हालांकि अब उसके अगले कदम के बारे में पुख्ता जानकारी नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button