देशब्रेकिंग न्यूज़

मंदिर-मस्जिद से हटाए जाएंगे लाउडस्‍पीकर, कानून सबके लिए एक

महाराष्ट्र में चल रहे लाउडस्‍पीकर विवाद पर मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर (Mumbai Mayor Kishori Pednekar) ने कड़ा रुख अपनाते हुए कहा कि मंदिरों और मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटा दिए जाएंगे। कानून सबके लिए एक समान है।

महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर का विवाद (Loudspeaker Controversy in Maharashtra) थमने का नाम नहीं ले रहा है। मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर (Mumbai Mayor Kishori Pednekar)  ने मनसे प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) के अल्टीमेटम के बाद कहा कि अगर उन्होंने अपने भाषण में कुछ भी आपत्तिजनक कहा तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। जहां तक हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) की बात है तो मुसलमानों समेत किसी ने भी इसका विरोध नहीं किया है। हालांकि कानून सबके लिए एक है। इसलिए मंदिरों और मस्जिदों से लाउडस्पीकर (Loudspeaker) हटा दिए जाएंगे। इस दौरान उन्होंने सभी से शांति बनाए रखने की अपील भी की।

 

मनसे कार्यकर्ताओं को दी चेतावनी

किशोरी पेडनेकर ने इस विवाद को लेकर मनसे कार्यकर्ताओं को भी चेतावनी दी। उन्होंने कहा, अगर मनसे कार्यकर्ता कानून को अपने हाथ में लेंगे तो उनकी पूरी जिंदगी कोर्ट के चक्कर लगाने में ही बीत जाएगी। मुंबई की मेयर ने कहा राज ठाकरे की वजह से मंदिरों से भी लाउडस्पीकर हटाए जा रहे हैं। गांव में बहुत से लोग मंदिरों से दूर रहते थे ऐसे में उनके लिए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल किया जाता था। हालांकि अब इन्हें हटा दिया जाएगा। पेडनेकर ने कहा मनसे प्रमुख राज ठाकरे का यह कृत्य हिंदू विरोधी है।

लाउडस्‍पीकर हटाने को लेकर राज ठाकरे का अल्टीमेटम

राज ठाकरे ने कहा था कि मस्जिदों में लाउडस्‍पीकर हटाने के लिए मैंने 3 मई तक का अल्‍टीमेटम दिया है अगर तब तक इसे नहीं हटाया गया तो जो कुछ भी होगा उसके लिए मैं जिम्‍मेदार नहीं रहूंगा। मनसे प्रमुख ने कहा था कि 4 मई को हिंदू भी मस्जिदों के आगे दोगुनी आवाज में हनुमान चालीसा बजाएं। ‘‘अगर मुस्लिम अच्‍छी तरह नहीं समझे तो हम उन्‍हें महाराष्ट्र की ताकत दिखाएंगे।’’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button