राजनीति

कान्ट्रैक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष की CM बोम्मई को चेतावनी

ठेकेदार की मौत के मामले में कर्नाटक सरकार घिरती ही जा रही है। अब कर्नाटक कान्ट्रैक्टर्स एसोसिएशन ने बोम्मई सरकार को चेतावनी दी है।

कर्नाटक में ठेकेदार की मौत के मामले में बोम्मई सरकार में मंत्री केएस ईश्वरप्पा पर विपक्ष हमलावर रूख अपनाए हुए है। इस बीच कर्नाटक ठेकेदार संघ के अध्यक्ष डी केम्पन्ना ने ठेकेदार संतोष पाटिल की मौत के मद्देनजर राज्य सरकार को अल्टीमेटम दिया है। उन्होंने कहा है कि राज्य सरकार भ्रष्ट विधायक और मंत्रियों के नामों की घोषणा करें। साथ ही डी केम्पन्ना ने कहा कि अगर 15 दिनों के भीतर राज्य सरकार संतोष पाटिल की मौत के मामले पर उन्हें चर्चा करने के लिए नहीं बुलाती है तो वह अपना काम बंद कर देंगे।

क्या बोले कर्नाटक ठेकेदार संघ के अध्यक्ष डी केम्पन्ना

दरअसल, समाचार एजेंसी एएनआइ से बातचीत में डी केम्पन्ना ने कहा हमने मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई को एक अल्टीमेटम दिया है। अगर 15 दिनों के भीतर भ्रष्टाचार को कम करने के लिए हमें इस मामले पर चर्चा करने के लिए नहीं बुलाया जाता है तो वह अपना काम बंद कर देंगे। उन्होंने आगे कहा कि राज्य सरकार को भ्रष्टाचार में शामिल विधायकों और मंत्रियों के नामों की भी घोषणा करें। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग सबसे अधिक भ्रष्ट विभाग है। इसके अलावा पीडब्ल्यूडी, सिंचाई, पंचायत राज, बीबीएमपी समेत अन्य विभाग भी भ्रष्टाचार में लिप्त हैं।

25 मई को बेंगलुरु में होगी बड़ी रैली

एसोसिएशन के अध्यक्ष ने आगे बताया कि 25 मई को बेंगलुरु में एक बड़ी रैली होगी। इसके अलावा हम एक महीने के लिए अपना काम बंद कर देंगे। फिलहाल तारीख अभी तय नहीं हुई है। आपको बता दें कि कर्नाटक के मंत्री केएस ईश्वरप्पा ने ठेकेदार की मौत से जुड़े एक मामले में उनके इस्तीफे और गिरफ्तारी की विपक्ष की मांग के बीच कैबिनेट से इस्तीफा देने से इनकार कर दिया है। हालांकि, मृतक ठेकेदार के भाई ने कर्नाटक के मंत्री केएस ईश्वरप्पा और उनके करीबी रमेश और बसवराज की गिरफ्तारी की मांग की है।

कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से की थी मुलाकात

इसी बीच पूर्व सीएम सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार और कर्नाटक के नेतृत्व में कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने कर्नाटक के राज्यपाल थावर चंद गहलोत से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने ठेकेदार संतोष पाटिल की मौत को लेकर राज्य मंत्री केएस ईश्वरप्पा को बर्खास्त करने की मांग की। साथ ही उन्होंने मंत्री केएस ईश्वरप्पा की गिरफ्तारी की मांग की थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button