लाइफस्टाइल

शराब, चीनी और मीट कैसे बढ़ा सकते हैं ब्रेस्ट कैंसर का खतरा?इन चीजों से बचें

आमतौर पर हम ब्रेस्ट कैंसर के बारे में कई बार पढ़ते और सुनते हैं लेकिन फिर भी ब्रेस्ट कैंसर को लेकर अवेयरनेस की कमी है। कहते हैं कि बीमारी के इलाज से बेहतर बचाव होता है

आमतौर पर हम ब्रेस्ट कैंसर के बारे में कई बार पढ़ते और सुनते हैं लेकिन फिर भी ब्रेस्ट कैंसर को लेकर अवेयरनेस की कमी है। कहते हैं कि बीमारी के इलाज से बेहतर बचाव होता है। ऐसे में बीमारी की जानकारी रखते हुए कुछ चीजों का ख्याल रखने से ब्रेस्ट कैंसर से बचा जा सकता है। क्या है ब्रेस्ट कैंसर    वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) के अनुसार, स्तन कैंसर महिलाओं को होने वाला सबसे कॉमन कैंसर है। आंकड़े बताते हैं कि ब्रेस्ट कैंसर हर साल दुनियाभर में करीब 2.1 मिलियन महिलाओं को प्रभावित करता है। स्तन कैंसर एक ऐसी स्थिति है जब कुछ जीनों में परिवर्तन के कारण स्तन कोशिकाएं विभाजित होती हैं और अनियंत्रित रूप से बढ़ने और फैलने लगती हैं। आमतौर पर, स्तन के दूध उत्पादक ग्रंथियों (लोब्यूल) या पथ (नलिकाओं) में कैंसर बनता है, जो ग्रंथियों से निप्पल तक दूध पहुंचाता है। फैटी या स्तन के रेशेदार टिश्यू कैंसर कोशिकाओं के लिए हॉटस्पॉट भी हो सकते हैं। कुछ मामलों में कैंसर कोशिकाएं आपकी बाहों के नीचे लिम्फ नोड्स तक पहुंच सकती हैं और शरीर के विभिन्न हिस्सों में फैल सकती हैं। इन चीजों से बचें शराब शराब पीने से भी ब्रेस्ट कैंसर का खतरा अधिक बढ़ जाती है। शराब पीने से एस्ट्रोजन का स्तर बढ़ जाता है, जिससे डीएनए डैमेज हो सकता है। जो महिलाएं हर सप्ताह 3 बार भी एल्कॉहॉल का सेवन करती हैं, उनमें ब्रेस्ट कैंसर का खतरा 15 फीसदी तक बढ़ जाता है। रेड मीट कुछ स्टडीज में यह बात सामने आई कि रेड मीट से भी ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढ़ता है। इस साल इंटरनैशनल जर्नल ऑफ कैंसर में प्रकाशित इस स्टडी में शोधकर्ताओं ने पाया कि रेड मीट खाने से ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढ़ता है, जबकि वाइट मीट के सेवन से इस खतरे को कम करने में मदद मिलती है। शुगर माना जाता है कि शुगर के सेवन से भी ब्रेस्ट कैंसर का रिस्क बढ़ सकता है। ऐसा सीधे तौर पर तो नहीं कह सकते क्योंकि हमारे बॉडी सेल्स एनर्जी के लिए शुगर पर भी निर्भर होते हैं। ऐसे में शुगर सेहत के लिए बहुत जरूरी है लेकिन इसके अत्यधिक सेवन से मोटापा और वजन बढ़ता है, जो बाद में ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को बढ़ा देते हैं।
फैट्स हर तरह का फैट सेहत के लिए बुरा नहीं होता। लेकिन प्रोसेस्ड फूड आइटम्स में मौजूद फैट सेहत के लिए नुकसानदायक होता है और ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढ़ा सकता है। प्रोसेस्ड फूड्स में ट्रांस फैट बेहद आम होता है और वैज्ञानिकों के मुताबिक, इससे ब्रेस्ट कैंसर का खतरा सबसे अधिक होता है।   Disclaimer : यह लेख सामान्य जानकारी के आधार पर लिखा गया है। किसी भी तरह की परेशानी या लक्षण दिखने पर डॉक्टर से सलाह जरूर लें।  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button