देशब्रेकिंग न्यूज़

श्री राम लीला संस्थान द्वारा कोसीकला में लगाया गया ऐतिहासिक भरत मिलाप मेला

भरत जी को समाचार देकर बजरंगबली श्री रामचंद्र जी के पास वापस लौट आये

गुरुवार को श्री राम लीला संस्थान द्वारा कोसीकला में ऐतिहासिक भरत मिलाप मेले का आयोजन किया गया सियावर रामचंद्र की जयघोषों से संपूर्ण क्षेत्र गुंजायमान हो उठा। वही भरत एवम शत्रुघ्न श्रद्धालुओं के कंधों से गुजर कर दर्शनीय पुष्पक विमान पर मौजूद श्री राम लक्ष्मण माता जानकी व हनुमान जी से मिले। इसी राममय वातावरण के मध्य रामायण के स्वर से सम्पूर्ण क्षेत्र गुंजायमान होता रहा। चारों भाइयों का मिलन तथा माता जानकी के चरणों में भरत जी का शीश झुकना श्रद्धालुओं को इतना भाया की बार-बार राजा रामचंद्र जी की जय सियावर रामचंद्र की जय से संपूर्ण वातावरण गुंजायमान होता रहा। मिलन से पूर्व पुष्पक विमान के अयोध्या के द्वार पर पहुंचते ही बजरंगबली श्री राम के आने की सूचना देने भरत के पास पहुंचे बजरंगबली को देखकर भरत जी अति हर्षित हुए तथा उनकी आंखों से खुशी के आंसू झलकने लगे।

जैसे ही भरत जी ने राम जी के आने की खबर सुनी तो प्रसन्न होकर अयोध्या प्रवेश द्वार की ओर दौड़ पड़े। भरत जी को समाचार देकर बजरंगबली श्री रामचंद्र जी के पास वापस लौट आये। भरत जी और शत्रुघ्न जी श्री रामचंद्र जी को लेने अयोध्या के प्रवेश द्वार की ओर रवाना जाते हैं। ऐतिहासिक भरत मिलाप चौक पर श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ पड़ा और वही दर्शकों को पैर रखने की जगह भी नहीं मिली श्रद्धालुओं का अपार उत्साह देखते ही बन रहा था श्रद्धालुओं ने उत्साहवश भरत जी को श्रीराम से मिलने जाने हेतु अपने कंधे लगा दिए जिन पर होकर भरत जी शत्रुघ्न के साथ राम जी से मिलने अयोध्या के प्रवेश द्वार पर पहुंच गए जहां पर ऐतिहासिक भरत मिलाप मिला संपन्न हुआ। ऐतिहासिक भरत मिलाप मेला संपन्न होने से पूर्व श्री ब्राह्मण सभा धर्मशाला से भरत शत्रुघ्न की रामचंद्र जी की खड़ाऊ सहित सवारी निकाली गई बैंड बाजों की मधुर धुनों के साथ निकाली सवारी बाजारों से गुजर कर अयोध्या के प्रति चौक पर पहुंची तत्पश्चात चित्रकूट के प्रतीक ब्राह्मण धर्मशाला से पुष्पक विमान के प्रतीक रथ पर बैठकर श्री राम जानकी लक्ष्मण हनुमान और विभीषण चल पड़े। पुष्पक विमान के प्रतीक रथ पुराना जीटी रोड नगर पालिका मार्केट शेरगढ़ तिराया घंटाघर पंजाबी बाजार सुभाष बाजार लाठी बाजार होते हुए भरत मिलाप चौक पर पहुंच गए मेले के दौरान संपूर्ण कोसीकला नगर क्षेत्र को अयोध्या नगरी का रूप देते हुए तोरण द्वारो से सजाया गया। चहोओर भारी रोशनी की गई। सवारी के रास्ते में उपस्थित हजारों की संख्या में स्त्री पुरुषों ने पुष्प वर्षा करके भगवान राम का अयोध्या वापसी पर जोर सोर से स्वागत किया। वही श्री राम लीला संस्थान द्वारा ऐतिहासिक भरत मिलाप मेले में आकर्षक सुंदर झांकियां भी निकाली गई। इस मौके पर श्री रामलीला संस्थान के समस्त पदाधिकारी नगर के गणमान्य लोग व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

रिपोर्ट /- प्रताप सिंह

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button