उत्तर प्रदेशदेशप्रतापगढ़ब्रेकिंग न्यूज़

प्रतापगढ़ में जलाशय में तब्दील हुआ अस्पताल, मरीज परेशान

प्रतापगढ़ - रात में हुई तेज बारिश में मेडिकल कालेज से संबद्ध राजा प्रताप बहादुर पुरुष अस्पताल जलाशय में तब्दील नजर आया। जलनिकासी की स्थाई व्यवस्था न होने से नालियों का गंदा पानी ओपीडी और इमरजेंसी के सामने फैल गया।

प्रतापगढ़ – रात में हुई तेज बारिश में मेडिकल कालेज से संबद्ध राजा प्रताप बहादुर पुरुष अस्पताल जलाशय में तब्दील नजर आया। जलनिकासी की स्थाई व्यवस्था न होने से नालियों का गंदा पानी ओपीडी और इमरजेंसी के सामने फैल गया।घुटनों तक गंदे पानी में चलकर मरीज और तीमारदार गिरते पड़ते किसी तरह से इमरजेंसी तक पहुंच रहे थे। बच्चे और बूढ़े तो कई बार गिरे और चोटिल हुए।ओपीडी में पहुंचने में असमर्थ दिव्यांग मरीजों को देखने के लिए डाक्टर बाहर निकल आए। पूरी शिद्दत के साथ मरीज को देखने का काम किया।राजा प्रताप बहादुर अस्पताल में जलनिकासी की व्यवस्था नहीं हैं। हालांकि अस्पताल परिसर में निर्माणधीन बिल्डिंग का कार्य चल रहा है। मैटेरियल लेकर भारी वाहन आते रहते हैं। जिससे पुरानी नालिया ध्वस्त हो गई है। इसके कारण बारिश में और दिक्कत हो जाती है।

बतादें कि रात की बारिश का पानी सुबह तक भरा रहा। हर तरफ पानी ही पानी था। अस्पताल आने वाले मरीज और उनके तीमारदारों को बदबूदार गंदे पानी से होकर गुजरना पड़ा। सबसे ज्यादा दिक्कत चलने फिरने से लाचार दिव्यांग मरीजों को आई। जो मरीज ओपीडी में नहीं पहुंच पा रहे थे। उनके प्रति डाक्टरों ने दयाभाव दिखाया। चैंबर से बाहर आकर पानी में उन्हें देखा।इमरजेंसी के पिलर के सहारे दवा लिखी। इस संबध में मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ आर्य देशदीपक ने बताया कि निर्माण कार्य चल रहा है। मरीजों को दिक्कत न हो इसके लिए पंपिंग सेट लगाकर बारिश का पानी निकाला जा रहा है।

रिपोर्टर – देवानंद शुक्ला

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button