लाइफस्टाइल

ब्यूटी पार्लर में हेयर कैसे की जाती है

इस प्रोसेस में बालों को स्ट्रेट और सिल्की बनाया जाता है। एक केमिकल आमतौर पर फॉर्मलाडेहाइड, फिर आपके बालों की संरचना के नए डिजाइन को पिन-स्ट्रेट अलाइनमेंट में क्रॉसलिंक करता है

हेयर रीबॉन्डिंग केमिकल ट्रीटमेंट है। इस प्रोसेस में बालों को स्ट्रेट और सिल्की बनाया जाता है। एक केमिकल आमतौर पर फॉर्मलाडेहाइड, फिर आपके बालों की संरचना के नए डिजाइन को पिन-स्ट्रेट अलाइनमेंट में क्रॉसलिंक करता है। 

सबसे पहले, आपका स्टाइलिस्ट आपके बालों को धोता है और इसे ड्रायर से सूखाकर अच्छी तरह से कंघी करता है।

-इसके बाद आपका स्टाइलिस्ट आपके बालों कई सेक्शन्स में बांटकर क्लिप करता है। फिर आपके बालों के हर स्ट्रैंड को “रिलैक्सेंट” नामक क्रीम में कोट किया जाता है।

 रिलैक्सेंट आपके बालों के क्यूटिकल्स को सेलुलर लेवल पर तोड़ रहा है, इसलिए रिलैक्सेंट स्टेप पर बारीकी से नजर रखने की जरूरत है ताकि आपकी स्कैल्प और बालों को नुकसान न पहुंचे।

-आपका स्टाइलिस्ट एक हेयर स्टीमिंग टूल का इस्तेमाल करके आपके बालों को स्टीम देता है। इस स्टेप के आखिरी में आपके बाल बेहद स्ट्रेट नजर आते हैं

इसके बाद, आपका स्टाइलिस्ट आपके बालों को फिर से धोता है और इसे ब्लो-ड्राई करता है ताकि यह प्रक्रिया के अगले भाग के लिए तैयार हो।

 यह केराटिन लोशन आपके नए बालों के बॉन्ड को जोड़ने में मदद करने के लिए है। इसके बाद आपके बालों के ऊपर एक न्यूट्रलाइज़र लगाया जाता है। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button