देश

मंत्री के बेटे को ग्रामीणों ने पीटा, हवाई फायरिंग का है

क्रिकेट खेल रहे बच्चों के साथ हुई मारपीट- ग्रामीण

बिहार (Bihar) के पश्चिम चंपारण (West Champaran) में राज्य के मंत्री नारायण प्रसाद (Narayan Prasad) के बेटे बबलू कुमार (Bablu Kumar) और उसके साथियों ने ग्रामीणों पर कथित रूप से गोलीबारी कर दी, जिसके बाद गुस्साए लोगों ने मंत्री के बेटे की जमकर पिटाई कर दी. घटना के बाद से गांव में तनाव बना हुआ है.

मंत्री के बेटे को पीटते दिख रहे ग्रामीण

बता दें कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता और पर्यटन राज्य मंत्री नारायण प्रसाद के बेटे बबलू कुमार और ग्रामीणों के बीच मुफस्सिल थाना इलाके के हरदिया कोईरीटोला में झड़प हो गई. इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो में ग्रामीणों का एक ग्रुप मंत्री के बेटे बबलू कुमार को पीटते हुए दिखाई दे रहा है. आरोप है कि ग्रामीणों ने मंत्री के बेटे से बंदूक भी छीन ली

अतिक्रमण की खबर मिलने के बाद मौके पर गए- मंत्री का बेटा

एसपी उपेंद्र वर्मा के अनुसार, मंत्री के बेटे के साथ उनके चाचा हरेंद्र प्रसाद और अन्य साथी थे, इन सभी को झड़प के दौरान चोटें आई हैं. मंत्री के बेटे का दावा है कि उनके बाग पर अतिक्रमण के बारे में जानकारी मिलने पर वो अपने साथियों के साथ मौके पर गए थे जहां उन पर हमला किया गया.

मंत्री के बेटे ने किया ये दावा

बबलू कुमार ने दावा किया कि आत्मरक्षा (Self-Defense) के लिए उनके पास मौजूद लाइसेंसी बंदूक ग्रामीणों ने छीन ली और उनकी गाड़ियों में तोड़-फोड़ की.

मंत्री के बेटे पर है फायरिंग का आरोप

वहीं ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि मंत्री के परिवार के सदस्यों ने वहां क्रिकेट खेल रहे कुछ बच्चों के साथ मारपीट की थी और बबलू कुमार ने हवा में फायरिंग की थी. हालांकि अस्पताल में भर्ती मंत्री के बेटे बबलू कुमार ने फायरिंग नहीं करने का दावा किया है. एक चश्मदीद ने बताया कि बच्चे क्रिकेट खेल रहे थे. तभी 4-5 लोग आए और उन्हें पीटने लगे. वो बंदूक के बट से मारने लगे और फिर फायरिंग कर दी. मारपीट करने वाले लोगों में मंत्री नारायण प्रसाद का बेटा भी शामिल है. पुलिस के मुताबिक, कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए इलाके में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है और घटना की जांच की जा रही है.  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button