राजनीति

‘फंस’ गई अखिलेश की सीट! आज प्रचार के लिए उतरेंगे मुलायम सिंह यादव

उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव के लिए दो चरणों की वोटिंग हो चुकी है. अब तीसरे चरण के लिए उम्मीदवार जोर-शोर से प्रचार कर रहे हैं. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव मैनपुरी के करहल सीट से चुनावी मैदान में हैं

 

यहां से बीजेपी ने मोदी सरकार में मंत्री एसपी सिंह बघेल को प्रत्याशी बनाया है. इससे यहां का मुकाबला काफी दिलचस्प हो गया है.

  • सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव यहां से हैं चुनावी मैदान में
  • बीजेपी ने मोदी सरकार में मंत्री एसपी सिंह बघेल को उतारा
उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव की प्रक्रिया जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है. वैसे-वैसे सियासी पारा भी गर्म होता जा रहा है. सभी राजनीतिक दल आगामी चरणों के लिए जोर-जोर से जुट गए हैं. समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अखिलेश यादव मैनपुरी की करहल सीट से चुनावी मैदान में हैं, लेकिन अब यहां का मुकाबला टक्कर का हो गया है.

बीजेपी-सपा में टक्कर

अखिलेश यादव को करहल सीट से उतारने का फैसला सोच-समझकर लिया गया था. वहीं, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने अब यहां का मुकाबला टक्कर का बना दिया है. बीजेपी ने यहां मोदी सरकार में मंत्री एसपी सिंह बघेल को अखिलेश यादव के खिलाफ मैदान में उतारा है. एसपी सिंह बघेल कभी मुलायम सिंह के बेहद करीबी माने जाते थे.

चुनावी प्रचार में उतरे सपा संरक्षक

यहां पर चल रहे सत्ता संग्राम के बीच खुद आज सपा के संस्थापक मुलायम सिंह चुनावी प्रचार में उतरने जा रहे हैं. मुलायम सिंह मैनपुरी के कोसमा में जनसभा को संबोधित करेंगे.वहीं, दूसरी तरफ गृहमंत्री अमित शाह भी यहां प्रचार की कमान संभालेंगे.

सपा का मजबूत गढ़ इटावा व मैनपुरी

बता दें कि इटावा और मैनपुरी समाजवादी पार्टी का मजबूत गढ़ रहा है. 2017 के विधान सभा चुनाव में जब बीजेपी को यूपी में 300 से अधिक सीट मिली थी, तब भी मैनपुरी की चारों सीटों पर उसे हार का सामना करना पड़ा था. अब यहां मुलायम सिंह जनसभा में अखिलेश यादव के साथ मंच साझा करेंगे.

मुलायम सिंह लोक सभा चुनाव का पर्चा भरने आए थे यहां

इससे पहले मुलायम सिंह 2019 में लोक सभा चुनाव के लिए मैनपुरी से प्रत्याशी के रूप में नामांकन पत्र दाखिल करने आए थे. करहल सीट पर 2017 में सपा के सोबरन यादव ने भाजपा की रमा शाक्य को 38 हजार वोटों से हराया था.

करहल सीट पर इस बार दिलचस्प मुकाबला

वहीं, इस बार करहल सीट पर मुकाबला दिलचस्प होने जा रहा है. बीजेपी ने इस बार एसपी सिंह बघेल को चुनावी मैदान में उतारा है. वह मुलायम सिंह के सुरक्षा अधिकारी भी रह चुके हैं.

पहले दो चरण में चुनावी प्रचार से दूर रहे मुलायम सिंह

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव विधान सभा चुनाव के पहले और दूसरे चरण में भी मुलायम चुनावी प्रचार से दूर बने रहे थे, लेकिन अब अखिलेश यादव के चुनावी प्रचार में भाग लेने के लिए आ रहे हैं.

करहल में सबसे ज्यादा यादवों के हैं वोट

करहल में कुल 3 लाख 71 हजार वोटर हैं. यहां सबसे ज्यादा 1 लाख 44 हजार वोट यादवों के हैं, तो 14 हजार मुस्लिम हैं. इसके अलावा 35 हजार शाक्य, 34 हजार जाटव, 25 हजार क्षत्रिय, 14 हजार ब्राह्मण , 14 हजार पाल, 10 हजार लोधी, 17 हजार कठेरिया और 3 हजार वैश्य वोटर हैं.  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button