खेल जगत

खत्म हो गया इस धाकड़ खिलाड़ी का IPL करियर

IPL में हमेशा भारतीय क्रिकेटर्स का दबदबा रहता है, लेकिन एक खिलाड़ी ऐसा है जो अब शायद ही कभी IPL में खेल पाएगा.

 IPL में हमेशा भारतीय क्रिकेटर्स का दबदबा रहता है, लेकिन एक खिलाड़ी ऐसा है जो अब शायद ही कभी IPL में खेल पाएगा. टीम इंडिया के इस खिलाड़ी का IPL करियर पूरी तरह से तबाह हो चुका है. अब इस खिलाड़ी को दोबारा IPL में मौका मिलना असंभव के बराबर हो गया है. 

टीम इंडिया के इस खिलाड़ी का पूरी तरह तबाह हुआ IPL करियर

भारतीय क्रिकेट में टेस्ट टीम की दीवार माने जाने वाले चेतेश्वर पुजारा ने भारत के लिए कई अहम और बड़ी पारी खेली हैं, लेकिन पुजारा आईपीएल में कभी भी सफल नहीं हुए. पुजारा को आईपीएल में ज्यादा खेलने का मौका भी नहीं मिला हैं. पुजारा ने आईपीएल में सिर्फ 30 मैच ही खेले हैं. इन मैचों में भी पुजारा फ्लॉप रहे हैं, पुजारा के नाम आईपीएल में सिर्फ 20.52 की औसत से 390 रन दर्ज हैं. आईपीएल में पुजारा ने 99.74 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए है जो टी20 क्रिकेट के हिसाब से काफी कम है. आईपीएल 2021 के लिए उनको चेन्नई सुपरकिंग्स में शामिल किया गया लेकिन आईपीएल 2022 में पुजारा किसी भी टीम का हिस्सा नहीं हैं.

असंभव के बराबर हुआ फिर मौका मिलना

भारतीय टीम के स्टार बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा बहुत ही खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं. उनको श्रीलंका के खिलाफ टीम इंडिया से बाहर का रास्ता दिखाया गया है. आईपीएल मेगा ऑक्शन 2022 में चेतेश्वर पुजारा के किसी भी टीम ने नहीं खरीदा है. ऐसे में अब दोबारा उनका आईपीएल में खेलना असंभव नजर आ रहा है.उनके बल्ले से रन निकल रहे हैं. वह रन बनाना तो दूर विकेट पर टिक ही नहीं पा रहे हैं. ऐसे में टीम इंडिया में उनक जगह आईपीएल और घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करने वाले प्लेयर्स ने ली है. पुजारा पिछले दो साल से कोई भी शतक भी नहीं लगा पाए हैं. धीरे-धीरे आईपीएल टीमों ने इस स्टार प्लेयर से अपना मुंह मोड़ लिया. 

ऑक्शन में नहीं मिला कोई खरीददार 

टीम इंडिया (Team India) की टेस्ट टीम की दीवार कहे जाने वाले चेतेश्वर पुजारा को कोई भी खरीददार नहीं मिला है. चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने आईपीएल (IPL) में ज्यादा मुकाबले नहीं खेले हैं. साल की 2021 की नीलामी में चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) ने उन्हें बेस प्राइज में खरीदा, लेकिन वो पूरे सीजन में बेंच पर ही बैठे रहे, लेकिन उन्हें बेंच पर ही बैठे-बैठे चैंपियन बनने की खुशी मिली थी. तब सीएसके ने केकेआर को हराकर खिताब जीता था.  

आईपीएल में बेहद फ्लॉप प्रदर्शन

चेतेश्वर पुजारा ने आईपीएल (IPL) में बहुत ही कम मैच खेले हैं. पुजारा ने साल 2010 में कोलकाता नाइटराइडर्स की तरफ से आईपीएल में डेब्यू किया था. 2011 से 2013 तक वो आरसीबी का हिस्सा रहे. वह अपने बल्ले का कमाल कभी भी टी20 में नहीं दिखा पाए. इसी वजह से उनको खरीदने में किसी भी टीम ने दिलचस्पी नहीं दिखाई है. पुजारा ने आईपीएल के 30 मैचों में 390 रन बनाए हैं. 2014 में उन्होंने अपना आखिरी मैच पंजाब किंग्स की तरफ से खेला था. उसके बाद उन्हें एक भी मैच खेलने का नसीब नहीं हुआ है. 

किसी भी IPL टीम को इस खिलाड़ी में दिलचस्पी नहीं

चेतेश्वर पुजारा की धीमी बल्लेबाजी को लेकर हमेशा ही आलोचना होती रही है. पुजारा टेस्ट फॉर्मेट के स्पेशलिस्ट बल्लेबाज माने जाते हैं और कई सालों से वो सिर्फ लंबे फॉर्मेट में ही खेलते नजर आ रहे हैं. इतना ही नहीं कुछ वक्त से वो टेस्ट फॉर्मेट में भी काफी संघर्ष रहे हैं. पुजारा का आईपीएल रिकॉर्ड बेहद खराब रहा है. यही वजह है कि कोई भी IPL टीम उनमें दिलचस्पी नहीं दिखाती.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button