देश

कड़ाके की ठंड से कब मिलेगी राहत, कहां होगी बारिश;

: भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, अगले 24 घंटे के दौरान पश्चिमी उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में शीत लहर का प्रकोप जारी रहेगा.

उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत में शीत लहर (Cold Wave) के शनिवार के बाद धीरे-धीरे कम होने की संभावना है, जबकि 2 से 4 फरवरी तक उत्तर-पश्चिम, पूर्व और पूर्वोत्तर भारत में बारिश (Rainfall) होगी. भारत मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) के मुताबिक, अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम तापमान (Minimum Temperature) में कोई अहम बदलाव होने की संभावना नहीं है और उसके बाद धीरे-धीरे 4-6 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होगी.

तापमान में क्या होगा बदलाव?

मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, 2 फरवरी तक उत्तर पश्चिम और मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान 3-5 डिग्री सेल्सियस बढ़ने और उसके बाद गिरने की संभावना है. अगले चार दिनों के दौरान पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में हवा के 15-25 किमी प्रति घंटे की स्पीड से चलने की संभावना है. अगले 3 दिनों के दौरान पूर्वी भारत में न्यूनतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव होने की संभावना नहीं है और उसके बाद यह 2-4 डिग्री सेल्सियस तक गिर जाएगा.

शीत लहर का प्रकोप रहेगा जारी

आईएमडी के मुताबिक, अगले 24 घंटों के दौरान पंजाब, हरियाणा-चंडीगढ़, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और राजस्थान के अलग-अलग इलाकों में शीत लहर के चलने की संभावना है. हालांकि इसके बाद शीत लहर का प्रकोप कम होगा. अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर प्रदेश और पूर्वी राजस्थान के अलग-अलग इलाकों में ठंड रहने की संभावना है और उसके बाद इसमें कमी आएगी.

कड़ाके की सर्दी से कब मिलेगी राहत?

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, अगले 24 घंटों के दौरान मध्य प्रदेश, विदर्भ और छत्तीसगढ़ के अलग-अलग इलाकों में कड़ाके की ठंड होगी और उसके बाद धीरे-धीरे सर्दी के कहर के कम होने की संभावना है. अगले दो दिनों के दौरान मध्य प्रदेश, ओडिशा में और अगले 24 घंटों के दौरान विदर्भ और छत्तीसगढ़ में अलग-अलग इलाकों में शीत लहर की स्थिति होने की संभावना है और उसके बाद यह धीरे-धीरे कम हो जाएगी. मौसम विभाग के अनुसार, 31 जनवरी और 1 फरवरी को उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है. अगले 24 घंटों के दौरान अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भी गरज के साथ बारिश पड़ने की संभावना है. आईएमडी के मुताबिक, अगले चार दिनों के दौरान तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, केरल और माहे में और अगले 48 घंटों के दौरान तटीय आंध्र प्रदेश में अलग-अलग जगह हल्की बारिश होने की संभावना है  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button