देशबिज़नेसविदेशवीडियोस्वास्थ्य

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने IMC 2022 प्रदर्शनी का उद्घाटन किया

5G के "5 लक्ष्यों" की प्राप्ति के साथ यह हमारे राष्ट्र को बदल सकता है-मुकेश अंबानी

माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने IMC 2022 प्रदर्शनी का उद्घाटन किया, उन्होंने जियो पवेलियन में प्रदर्शित ट्रू 5जी उपकरणों को देखा और ‘जियो-ग्लास’ को खुद पहन कर उसका अनुभव किया..उन्होंने युवा Jio इंजीनियरों की एक टीम द्वारा एंड-टू-एंड 5G तकनीक के स्वदेशी विकास को भी समझा……इस दौरान प्रधानमंत्री के साथ दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव, दूरसंचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान, रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी और रिलायंस जियो के चेयरमैन आकाश अंबानी भी उपस्थित थे…….. इस मौके पर बोलते हुए मुकेश अंबानी ने अपनी स्पीच में कहा कि भारतीय मोबाइल कांग्रेस के छठे संस्करण के आयोजन के लिए डीओटी और सीओएआई को मेरी हार्दिक बधाई……मैं पूरे दिल से कह सकता हूं कि भारतीय दूरसंचार उद्योग के रूप में, हमने जो प्रदर्शित किया है, उसपर मुझे बहुत गर्व है…….. सीओएआई और डीओटी दोनों से मैं कह सकता हूं कि अब हम नेतृत्व को तैयार हैं और भारतीय मोबाइल कांग्रेस को अब एशियन मोबाइल कांग्रेस और ग्लोबल मोबाइल कांग्रेस बन जाना चाहिए…….यह विशेष अवसर है क्योंकि यह आजादी का अमृत महोत्सव के हमारे राष्ट्रीय उत्सव के वर्ष में हो रहा है…..हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2047 तक भारत को एक विकसित राष्ट्र बनाने का एक सपना देखा है…… भारत को उस लक्ष्य की ओर ले जाने के लिए सरकार की हर नीति और हर कार्रवाई को कुशलता से तैयार किया गया है…….भारत के 5जी युग में तेजी से आगे बढ़ने के लिए उठाए गए कदम हमारे प्रधान मंत्री के दृढ़ संकल्प का परिणाम हैं…… यह खुशी की बात है क्योंकि 5G अगली पीढ़ी की कनेक्टिविटी तकनीक से कहीं बढ़कर है…… यह एक मूलभूत तकनीक है जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, रोबोटिक्स, ब्लॉकचैन और मेटावर्स जैसी अन्य परिवर्तनकारी तकनीकों की पूरी क्षमता को अनलॉक करती है…..वास्तव में, मुझे लगता है कि 5G के “5 लक्ष्यों” की प्राप्ति के साथ ही यह हमारे राष्ट्र को बदल सकता है…….

1. 5G और 5G- डिजिटल सॉल्युशन्स, आम भारतीयों तक सस्ती और उच्ची गुणवत्ता वाली शिक्षा और स्कील डेवलपमेंट को पहुंचा सकते हैं…….. यह युवा भारतीयों को विश्व स्तरीय क्षमताओं और दक्षताओं से लैस करके उनकी पूरी क्षमता को उभारने में मदद करेगा ताकि वे अधिक कमा सकें और भारत को विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी बना सकें।

2. 5G बिना किसी अतिरिक्त निवेश के मौजूदा अस्पतालों को स्मार्ट अस्पतालों में बदलकर ग्रामीण और दूरदराज के क्षेत्रों में अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान कर सकता है…….यह भारत में कहीं भी सर्वश्रेष्ठ डॉक्टरों की सेवाएं डिजिटल रूप से उपलब्ध करा सकता है, इससे उपचार की स्पीड और सटीकता में नाटकीय रूप से सुधार होगा, और रियल टाइम में निर्णय लिए जा सकेंगे…….. यह सभी भारतीयों के स्वास्थ्य, धन और खुशी में वृद्धि करेगा……….

3. 5G कृषि, सेवाओं, व्यापार, उद्योग, परिवहन और ऊर्जा इंफ्रा के डिजिटलीकरण और उनके डेटा प्रबंधन में तेजी लाकर शहरी और ग्रामीण भारत के बीच की खाई को पाट सकता है……यह सभी आर्थिक गतिविधियों में भारी दक्षता पैदा करेगा, भारत को इनोवेशन्स का केंद्र बनाएगा, और जलवायु संकट को कम करने में भी मदद करेगा……….

4. 5G छोटे पैमाने के औद्योगिक और वाणिज्यिक उद्यमों को उतने ही शक्तिशाली प्रोडक्टिविटी टूल्स उपलब्ध करा सकता है, जो बड़े उद्योग धंधों द्वारा उपयोग किए जाते हैं….. यह भारत की अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों के आधुनिकीकरण और लाभप्रदता को बढ़ाएगा…….

5. एआई का इस्तेमाल हर क्षेत्र में बढ़ाकर, 5जी भारत को दुनिया की इंटेलिजेंस कैपिटल के रूप में उभरने में मदद कर सकता है……. इससे भारत को हाई वैल्यू डिजिटल सॉल्युशन्स और सेवाओं का निर्यातक बनने में मदद मिलेगी………

उन्होने कहा कि इन पांच लक्ष्यों को प्राप्त करने से हमारे देश में उद्यमिता तेजी से बढ़ेगी, जो और भी बड़े निवेश को आकर्षित करेगी और हमारे युवाओं के लिए लाखों नए रोजगार पैदा करेगा……जनसंख्या और डिजिटल टेक्नोलॉजी की संयुक्त शक्ति का उपयोग करके, भारत दुनिया की अग्रणी डिजिटल सोसइटी बन सकती है….. ग्रोथ और डेवलेपमेंट के दोहरे लक्ष्यों को एक साथ प्राप्त किया जा सकता है…….. भारत को 3 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था से 2047 तक 40-ट्रिलियन- डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने और प्रति व्यक्ति आय को 2,000 डॉलर से बढ़ाकर 20,000 डॉलर तक ले जाया जा सकता है……इसलिए यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगी कि 5G एक डिजिटल कामधेनु की तरह है, हमें जो कुछ भी चाहिए यह वह दे सकती है…..

रिपोर्ट- आमिर हुसैन रिजवी, एपेक्स न्यूज इंडिया, लखनऊ

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button