मनोरंजन

कंगना रनौत ने बहन रंगोली चंदेल पर हुए एसिड अटैक को याद किया,कहा -कोई मुझ पर भी

दिल्ली के द्वारका इलाके में 17 साल की मासूम लड़की पर एसिड अटैक की घटना ने हर किसी को दहला कर रख दिया था।आपको ता दें कि लड़की के साथ यह घिनौनी वारदात दोस्त द्वारा की गई है।

दिल्ली के द्वारका इलाके में 17 साल की मासूम लड़की पर एसिड अटैक की घटना ने हर किसी को दहला कर रख दिया था।आपको ता दें कि लड़की के साथ यह घिनौनी वारदात दोस्त द्वारा की गई है।घटना में तीन आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। लेकिन सोशल मीडिया पर लोग इस घटना पर अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं।इसी बीच अब कंगना रनौत ने भी इस घटना पर अपना रिएक्शन देते हुए बहन रंगोली चंदेल के दुख का जिक्र किया है।कंगना रनौत की बहन रंगोली चंदेल पर भी एसिड अटैक हुआ था।कंगना ने हाल ही में अपने पोस्ट में बताया कि कैसे इस एक हमले से वह बहुत ज्यादा डर गई थीं और जब भी उनके पास से कोई अजनबी गुजरता था तो वह अपना चेहरा ढक लेती थी। आपको बता दें कि कंगना रनौत ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट की स्टोरी पर एक लंबा-चौड़ा नोट लिखा है।जिसमे कंगना रनौत ने लिखा जब मैं टीनेजर थी तब मेरी बहन रंगोली चंदेल पर रोड साइड रोमियो ने एसिड से हमला किया था और तब उसे 52 सर्जरी से गुजरना पड़ा था। उस दिनों उसके मानसिक और शारीरिक दर्द का कोई अंदाज नहीं लगा सकता था।हम एक परिवार के रूप में टूट गए थे।मुझे भी थेरेपी से गुजरना पड़ा क्योंकि मेरे अंदर डर बैठ गया था कि पास से गुजरने वाला व्यक्ति मेरे ऊपर तेजाब फेंक सकता है। इसी वजह से जब भी कोई बाइक वाला या कार में बैठा इंसान पास के गुजरता था तब मैं अपना चेहरा ढक लेती थी।इसके अलावा कंगना रनौत ने अपने नोट में लिखा है कि यह अत्याचार बंद नहीं हुए हैं।सरकार को इन अपराधों के खिलाफ बहुत कड़ी कार्रवाई करने की जरूरत है। मैं गौतम गंभीर से सहमत हूं और हमें एसिड हमलावरों के खिलाफ बहुत सख्त कदम उठाने की जरूरत है।आपको कि बीते मंगलवार को दो नकाबपोश लड़कों ने एक लड़की पर तेजाब फेंक कर हमला किया था और यह घटना तब की है जब लड़की अपने स्कूल से निकलकर घर जा रही थी।फिलहाल पीड़ित लड़की अब दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के आईसीयू में भर्ती है।मामले में अधिकारियों ने बताया कि आरोपियों ने पीड़िता पर नाइट्रिक एसिड फेंका होगा।  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button