मनोरंजन

Karan Johar ने फिल्मों के रीमेक को बताया बॉलीवुड की बर्बादी का कारण

बॉलीवुड फिल्में बॉक्स ऑफिस पर पिछले काफी समय से अच्छा काम नहीं कर रही हैं और दर्शक बॉलीवुड फिल्मों को पसंद नहीं कर रहे हैं,जिसके चलते इंडस्ट्री घाटे में रहने लगी है।

बॉलीवुड फिल्में बॉक्स ऑफिस पर पिछले काफी समय से अच्छा काम नहीं कर रही हैं और दर्शक बॉलीवुड फिल्मों को पसंद नहीं कर रहे हैं,जिसके चलते इंडस्ट्री घाटे में रहने लगी है।वहीँ ऐसे में अब इसका गुनहगार करण जौहर ने खुद को मान लिया है और बड़ा बयान दिया है।गौरतलब है कि इंडस्ट्री में रीमेक फिल्मों का काफी चलन है।हर तरफ फिल्म के मेकर्स और कलाकार रीमेक को बनाने में लगे हैं, जो न बॉक्स ऑफिस पर सफल हो रही है और न दर्शकों को भा रही है।वहीँ ऐसे में करण जौहर ने अब इसका गुनहगार खुद को मान लिया है।करण जोहर ने कहा कि पूरे हिंदी सिनेमा में एक बहुत बड़ी समस्या है कि हममें कहानी को लेकर दृढ विश्वास और आस्था भी नहीं है और हमारे पास सलीम जावेद के रूप में असल आवाज़ थी जो सिनेमा में जीवंत किरदार को उतारते थे। इसके अलावा उन्होंने कहा कि 70 तक सलीम जावेद ने जो असल कहानियों और किरदार को संभाल कर रखा था और हमने वही 80 में दक्षिण भाषाओं की फिल्मों का रीमेक बनाना शुरू कर दिया था।80 में रीमेक बनना शुरू हो गया है और इसके अलावा 90 के दशक में हमने लव स्टोरी हम आपके हैं कौन की सफलता को देखते हुए लव स्टोरी बनाना शुरू कर दिया और इन सब में दोषी मैं भी हूं,इसी तरह से हमने 70 के दशक की जड़ों को खो दिया। आपको बता दें कि करण जौहर ने साल 2000 में आई फिल्म लगान का भी जिक्र किया है,जिसकी सफलता देख हर कोई इसी जॉनर की फिल्में बनाने लगा और ठीक ऐसा ही हुआ है जब 2010 में फिल्म दबंग आई थी।करण के अनुसार हमने अपनी जड़ों को खोया है और खुद की ओरिजिनल कहानियों पर विश्वास नहीं किया है।अगर हम स्विट्ज़रलैंड और न्यूज़ीलैंड जाकर फिल्म का निर्माण करते हैं तो लोग खुद को उस कहानी से जुड़ा हुआ महसूस नहीं करते हैं।      

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button