क्राइम न्यूज़देशब्रेकिंग न्यूज़

पीलीभीत में साइबर ठगों के निशाने पर वकील

पीलीभीत में साइबर ठगों के निशाने पर जनपद के वकील हैं। जेल का स्टाफ बनकर वकील करते हैं फोन। साइबर ठगों ने जेल में बंद बंदी के वकील को ब्लड के नाम पर फोन कर ठगी कर ली।

पीलीभीत में साइबर ठगों के निशाने पर जनपद के वकील हैं। जेल का स्टाफ बनकर वकील करते हैं फोन। साइबर ठगों ने जेल में बंद बंदी के वकील को ब्लड के नाम पर फोन कर ठगी कर ली। बतादें कि जेल में बंद वकीलों के क्लाइंट का सहारा लेकर बंदी रक्षक बनकर फोन करके वकीलों से साइबर ठगी की जा रही है। एक अधिवक्ता से ₹3420 की ठगी भी कर ली गई। साथ ही कई वकीलों को भी इसी तरह के फोन किए गए हैं। मामले में शिकायत के बाद एसपी ने जांच शुरू कराई है।

अधिवक्ता अंशुल गौरव सिंह का कहना है कि उनके पास जेल से राजीव सैनी नाम के बंदी रक्षक का फोन आया उसने कहा आपका एक बंदी धोखाधड़ी के मामले में जिला कारागार में बंद है। वह जेल में फिसल कर गिर गया है जिससे उसका पैर टूट गया है। सिर में भी काफी गंभीर चोट आई है। जिसके कारण अत्यधिक खून का रिसाव भी हो गया है ब्लड बैंक से खून के लिए ₹3420 की जरूरत है अधिवक्ता अंशुल गौरव सिंह ने फौरन ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर कर दिए। और बंदी के परिवार वालों को भी जानकारी दी। बाद में जेल में फोन करने पर पता चला कि उनके साथ ठगी हुई है। अधिवक्ता अंशुल गौरव सिंह का कहना है कि अन्य अधिवक्ता साथियों के पास बीते कुछ दिनों से इस तरह के फोन आ रहे हैं। फिलहाल शिकायत के बाद पुलिस अधीक्षक ने मामले में जांच के लिए साइबर सेल को निर्देश दिए हैं।

रिपोर्टर- सरताज सिद्दीकी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button