देशब्रेकिंग न्यूज़

आंध्र प्रदेश की ओर तूफान असानी

केंद्रीय गृह सचिव अजय कुजमार भल्ला ने भीषण चक्रवाती तूफान आसनी के मद्देनजर केंद्रीय मंत्रालयों एजेंसियों और आंध्र प्रदेश और ओडिशा की सरकारों की तैयारियों की समीक्षा की। मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवाती तूफान के 11 मई की सुबह से दोपहर तक काकीनाडा-विशाखापत्तनम तटों के पास पहुंचने की संभावना है

चक्रवाती तूफान असानी के आंध्र प्रदेश की ओर बढ़ने के साथ ही भारत मौसम विज्ञान विभाग ने राज्य के तटीय क्षेत्रों के लिए तूफान, कई क्षेत्रों में भारी वर्षा, आंधी और तेज हवाओं और स्थानीय क्षेत्र में बाढ़ को देखते हुए रेड अलर्ट जारी किया है। IMD के मुताबिक आंध्र प्रदेश में के श्रीकाकुलम, विजयनगरम, विशाखापत्तनम, पूर्वी गोदावरी, कृष्णा, गुंटूर और पश्चिम गोदावरी जिलों में बुधवार सुबह 8.30 बजे तक 40-50 किमी प्रति घंटे से की रफ्तार से तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है।

 

मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि चक्रवात बुधवार सुबह तक काकीनाड़ा एवं विशाखापट्टनम के बीच आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों से टकरा सकता है। इसके बाद यह पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी तक पहुंच सकता है। आंध्र प्रदेश में इसके चलते रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। तूफान का असर बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़ में भी रहेगा। 11 से 13 मई तक यहां बारिश होगी, साथ ही तेज हवाएं भी चलेंगी। विशाखापत्तनम हवाई अड्डा निदेशक के. श्रीनिवास राव ने बताया कि चक्रवात असानी के मद्देनजर आज इंडिगो की सभी उड़ानें (22 आगमन और 22 प्रस्थान) रद्द रहेंगी। एयर एशिया ने बेंगलुरु से एक और दिल्ली से एक उड़ान रद्द की है, शाम की उड़ानों के बारे में निर्णय अभी नहीं लिया गया है।

आंध्र प्रदेश में गुड़ीवाड़ा के पास लैंडफाल करने की संभावना

इधर, संयुक्त राज्य अमेरिका के संयुक्त तूफान चेतावनी केंद्र (जेटीडब्ल्यूसी) ने बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने भीषण चक्रवात असानी के आंध्र प्रदेश में गुड़ीवाड़ा के पास लैंडफाल करने की संभावना जताई है। लैंडफाल के बाद यह विशाखापट्टनम के पास से बंगाल की खाड़ी में वापस निकल जायेगा। इसके बाद यह कमजोर हो जायेगा।

आंध्र प्रदेश में बोर्ड परीक्षा स्थगित

बोर्ड ऑफ इंटरमीडिएट एजुकेशन, आंध्र प्रदेश ने आज होने वाली परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है। 12 मई से शेष परीक्षा कार्यक्रम अपरिवर्तित रहेगा। परीक्षा केंद्र के स्थान और परीक्षा के समय में कोई बदलाव नहीं किया गया है। बता दें कि 11 मई से 25 मई तक परीक्षा का आयोजन किया गया है।

चक्रवाती तूफान की 12 मई तक कमजोर पड़ने की संभावना

आईएमडी बुलेटिन में कहा गया है कि ‘यह लगभग उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और बुधवार सुबह तक काकीनाडा-विशाखापत्तनम तटों के करीब बंगाल की पश्चिम-मध्य खाड़ी तक पहुंचने की बहुत संभावना है। इसके बाद, इसके उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर धीरे-धीरे फिर से वक्र होने और काकीनाडा और विशाखापत्तनम के बीच आंध्र प्रदेश तट के साथ आगे बढ़ने और फिर उत्तर आंध्र प्रदेश और ओडिशा तटों से बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी में उभरने की ज्यादा संभावना है।’ बुधवार की सुबह तक इसके धीरे-धीरे कमजोर होकर चक्रवाती तूफान और 12 मई की सुबह तक कमजोर पड़ने की संभावना है।

ओडिशा के तटीय जिलों में बारिश

चक्रवात असानी के समुद्र में ही कमजोर हो जाने के बावजूद समुद्र पूरी तरह से अशांत हो गया है। आसमान काले बादलों से ढंका है। ओडिशा में भुवनेश्वर समेत तटीय जिलों में रिमझिम बारिश का दौर शुरू हो गया है। पर्यटकों को समुद्र में जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। मौसम विभाग ने पुरी, खुर्दा, कटक, जगत¨सहपुर, गंजाम जिले में भारी बारिश की संभावना जताई है। 12 मई को पुरी, जगत¨सहपुर, कटक, केन्द्रापड़ा, बालेश्वर, भद्रक जिले में बारिश के लिए पीली चेतावनी जारी की गई है। 12 मई तक मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button