देशब्रेकिंग न्यूज़राजनीति

महाराष्ट्र : हमारी पहचान छीनने की कोशिश कर रहे 40 गद्दार – आदित्य ठाकरे

शिवसेना में विवाद के बीच अब एकनाथ शिंदे को भी चुनाव आयोग से नया सिंबल मिल गया है। आयोग ने शिंदे गुट को ढाल के साथ दो तलवार का नया चुनाव चिह्न प्रदान किया है।

शिवसेना में विवाद के बीच अब एकनाथ शिंदे को भी चुनाव आयोग से नया सिंबल मिल गया है। आयोग ने शिंदे गुट को ढाल के साथ दो तलवार का नया चुनाव चिह्न प्रदान किया है। इसी सिंबल के साथ शिंदे गुट आगामी अंधेरी ईस्ट विधानसभा उपचुनाव में मैदान में उतरेगी।

शिंदे गुट को सोमवार को ही शिवसेना बालासाहेबांची नाम मिल चुका है। चुनाव आयोग से शिंदे गुट को शिवसेना बालासाहेबांची नाम मिलने पर आदित्य ठाकरे ने हमला बोला। एक इंटरव्यू में आदित्य ने कहा- बालासाहेब तो देश में बहुत सारे हैं, पर उद्धव बालासाहेब ठाकरे देश में एक ही है, जो सबको जोड़ता है। आदित्य ने आगे कहा- शिवसेना के 40 गद्दार हमसे हमारा नाम और हिंदुत्व की पहचान छीनने की कोशिश कर रहे हैं।

चुनाव आयोग ने सोमवार को उद्धव गुट को ‘शिवसेना उद्धव बालासाहेब ठाकरे’ नाम और मशाल निशान दिया था। 8 अक्टूबर को आयोग ने दोनों गुट के बीच लड़ाई को देखते हुए तीर-कमान का सिंबल फ्रीज कर दिया। आयोग ने फैसले में कहा- शिवसेना के मूल नाम पर फैसला आने तक कोई भी गुट पार्टी के नाम का इस्तेमाल नहीं कर सकता है।

उद्धव ठाकरे ने जानकारी दी थी कि उप चुनाव के लिए उन्होंने चुनाव आयोग को तीन नाम और तीन निशान के विकल्प दिए थे। निशान में त्रिशूल, उगता सूरज और मशाल शामिल थे। वहीं, पार्टी के नाम शिवसेना बाला साहेब ठाकरे, शिवसेना बालासाहेब प्रबोधनकर ठाकरे, शिवसेना उद्धव बालासाहेब ठाकरे दिए गए थे। वहीं शिंदे ने भी त्रिशूल, उगता सूरज और गदा चुनाव चिह्न मांगे थे। उन्हें आयोग ने इन तीनों में से कोई भी सिंबल नहीं दिए। वजह ये कि उगता सूरज DMK का चुनाव चिह्न है। वहीं त्रिशूल और गदा को धार्मिक चिह्न बताते हुए आयोग ने देने से इनकार कर दिया .

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button