विदेश

रूसी रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि बेलारूस और यूक्रेन के काला सागर तट सहित पर सैन्य अभ्यास जारी है।

रूसी रक्षा मंत्रालय ने 15 फरवरी को कहा है कि यूक्रेन के आसपास जमा हुए कुछ सैनिकों को उनके ठिकानों पर वापस भेजा जा रहा है,

रूसी रक्षा मंत्रालय ने 15 फरवरी को कहा है कि यूक्रेन के आसपास जमा हुए कुछ सैनिकों को उनके ठिकानों पर वापस भेजा जा रहा है, हालांकि बेलारूस और यूक्रेन के काला सागर तट सहित पर सैन्य अभ्यास जारी है। सैन्य चौकियों की ओर लौट रहे सैनिक न्यूज एजेंसी एएनआई ने न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के हवाले से बताया है कि रूसी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता इगोर कोनाशेनकोव ने कहा है कि दक्षिणी और पश्चिमी सैन्य जिलों की इकाइयां, अपने काम को पूरा करने के बाद, रेल और सड़क परिवहन पर लोड करना शुरू कर चुकी हैं और आज से अपने सैन्य चौकियों में जाना शुरू कर देंगी। कोनाशेनकोव ने कहा है कि अभ्यास सहित कई युद्ध प्रशिक्षण कार्यक्रम योजना के मुताबिक आयोजित किए गए हैं। जैसे ही युद्ध प्रशिक्षण कार्यक्रम पूरे हो जाएंगे, सैनिक हमेशा की तरह अपने स्थायी तैनाती बिंदुओं पर संयुक्त तरीके से मार्च करेंगे। किसी देश पर हमला करने का कोई इरादा नहीं: रूस बता दें कि हाल के महीनों में यूक्रेन बॉर्डर पर तनाव बढ़ गया है। नाटो ने यूक्रेन बॉर्डर पर रूसी सैनिकों के जमा होने का आरोप लगाया है। अमेरिका और यूक्रेन ने रूस पर आक्रमण की तैयारी करने का आरोप लगाया है। हालांकि रूस ने कहा कि उसका किसी देश पर हमला करने का कोई इरादा नहीं है। रूस ने यूक्रेन बॉर्डर के पास एक लाख से अधिक सैनिकों को जमा किया है। बड़ी सैन्य तैनाती को लेकर अमेरिका और नाटो सहयोगियों ने चिंता जताई थी कि रूस एक सैन्य घुसपैठ की योजना बना रहा है। हालांकि रूस ने इस तरह की कोई योजना होने से लगातार इनकार किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button