देशब्रेकिंग न्यूज़

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने की मुसलमानों से अपील

कुर्बानी के बाद जानवरों के गंदे हिस्से को सड़क या अन्य खुली जगहों पर न फेंके

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के महासचिव मौलाना खालिद सैफुल्लाह रहमानी के मुताबिक कुर्बानी करना वाजिब है। इसके साथ हुई उन्होंने मुसलमानों से अपील की कि कुर्बानी करने में कोई भी व्यक्ति ऐसा काम न करें जिससे किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचे और और अमन व भाईचारे को नुकसान के साथ ही गंदगी फैले।

बता दे की मौलाना ने जारी अपने बयान में कहा कि बकरीद मुसलमानों का अहम त्योहार है, जो याद दिलाता है कि अल्लाह की खातिर हर तरह की कुर्बानी के लिए तैयार रहना चाहिए। बकरीद में जानवरों की कुर्बानी दी जाती है लेकिन शरीयत का ये हुक्म मालदार मुसलमानों के लिए है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि कुर्बानी के बाद जानवरों के गंदे हिस्से को सड़क या अन्य खुली जगहों पर न फेंके। ऐसा करना शरीयत के खिलाफ तो है ही, स्वास्थ्य के खिलाफ भी है। उन्होंने यह भी कहा कि तय कूड़ा फेंकने की जगहों पर इसे फेंका जाए।

इतना ही नहीं बकरीद के सिलसिले में इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के चेयरमैन एवं ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने एडवाइजरी जारी कर कुर्बानी करते समय की फोटो व वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड न करने की अपील की। उन्होंने कहा कि उन्हीं जानवरों की कुर्बानी की जाए, जिन पर कोई कानूनी पाबंदी नहीं। और कहा की खुली जगह, सड़क के किनारे, गली और सार्वजनिक स्थानों पर कुर्बानी न करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button