राजनीति

UP के इस भुलक्‍कड़ CM ने की थी राजनाथ के बारे में भविष्‍यवाणी, जो सच निकली

यूपी में एक मुख्‍यमंत्री ऐसा भी हुआ है जिसे भूलने की बीमारी थी. उसे अपने मंत्रियों तक के नाम याद नहीं रहते थे लेकिन राजनाथ सिंह पर की गई उनकी भविष्‍यवाणी हूबहू सच निकली थी.

यूपी ने एक से एक कद्दावर नेता, मुख्‍यमंत्री और प्रधानमंत्री तक दिए हैं. लेकिन यहां पर एक ऐसा मुख्‍यमंत्री भी हुआ है जिसकी नाकामी के किस्‍से राजनीतिक हलकों में बेहद मशहूर रहे. जबकि इस नेता ने अपने जीवन में कई ऐसे कठिन फैसले लिये जिन्‍हें लेना आसान नहीं था. बात हो रही है कि जनसंघ के नेता रहे रामप्रकाश गुप्‍ता की, जिन्‍हें बीजेपी ने 1999 में तब सीएम बनाया था पार्टी के नेताओं के बीच खासी कलह चल रही थी.

76 साल की उम्र में बनाया था सीएम 

भले ही बीजेपी ने उम्र का हवाला देकर अपने कई वरिष्‍ठ नेताओं को घर बैठा दिया हो लेकिन एक समय ऐसा भी था जब इसी पार्टी ने 76 साल के रामप्रकाश गुप्ता को मुख्यमंत्री बनाया गया था. राजनीति का उनका लंबा अनुभव था. चौधरी चरण सिंह की सरकार में उप-मुख्यमंत्री भी रह चुके थे, इसके बाद भी बतौर सीएम उन्‍हें नाकाम ही माना गया और उनकी गिनती कमजोर मुख्‍यमंत्रियों में हुई.

बेतहाशा हुए थे ट्रांसफर 

तबादलों का दौर देखना हो तो रामप्रकाश गुप्ता का कार्यकाल इसका अच्‍छा उदाहरण हो सकता है. उनके सीएम बनने के 3 महीने के अंदर ही साढ़े तीन सौ से ज्‍यादा अफसरों के ट्रांसफर किए गए, वो बात अलग है कि ये सारे ट्रांसफर रामप्रकाश गुप्‍ता ने अपनी ही पार्टी के नेताओं के कहने पर किए थे. हालात यह थे कि उन्नाव जिले में 40 दिन में 5 कलेक्टर बदल गए. वहीं श्रावस्ती के डीएम बिहारी लाल का 1 महीने में 6 बार ट्रांसफर किया गया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button